रायबरेली: कांग्रेस की 'पंचवटी' के दिनेश प्रताप सिंह सोनिया गांधी को देंगे चुनौती

दिनेश प्रताप सिंह की फाइल फोटो
दिनेश प्रताप सिंह की फाइल फोटो

बता दें दिनेश प्रताप सिंह 2016 में दूसरी बार एमएलसी चुने गए थे. उनकी विधानसभा सीट में रायबरेली और अमेठी के 18 ब्लॉक आते हैं. इन सभी ब्लाक में उनका प्रभाव माना जाता है.

  • Share this:
बीजेपी ने कांग्रेस के गढ़ रायबरेली में सोनिया गांधी को घेरने के लिए कभी गांधी परिवार के सबसे करीबी रहे कांग्रेस के एमएलसी दिनेश प्रताप सिंह को मैदान में उतारा है. ये वही दिनेश प्रताप सिंह हैं जिनके आवास 'पंचवटी' से कभी कांग्रेस की सियासी रणनीति का खाका बुना जाता था. लेकिन अब पंचवटी कांग्रेस की नहीं रही.

पिछले साल सितम्बर में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की मौजूदगी में अपने भाई अवधेश सिंह के साथ बीजेपी में शामिल हो गए. उस वक्त अवधेश सिंह ने कहा था कि पंचवटी अब कांग्रेस की नहीं है. पंचवटी दिनेश सिंह का घर है, जहां उनके पांच भाई-बहन रहते हैं. दिनेश सिंह के एक भाई राकेश प्रताप सिंह हरचंदपुर से कांग्रेस के विधायक हैं. उन्होंने अभी पार्टी नहीं छोड़ी है.

बता दें दिनेश प्रताप सिंह 2016 में दूसरी बार एमएलसी चुने गए थे. उनकी विधानसभा सीट में रायबरेली और अमेठी के 18 ब्लॉक आते हैं. इन सभी ब्लाक में उनका प्रभाव माना जाता है. बीजेपी में शामिल होने के बाद दिनेश प्रताप सिंह ने कांग्रेस पर तीखा हमला किया था. उन्होंने कहा था कि सोनिया गांधी ने रायबरेली को प्राइवेट लिमिटेड समझ लिया है. रायबरेली नेहरू-गांधी परिवार के लिए एंजॉय करने की जगह बन गया है. उन्होंने कहा था कि पार्टी का शीर्ष नेतृत्व रायबरेली में कांग्रेस कार्यकर्ताओं की भ्रूण हत्या कर रहा है.



दिनेश प्रताप सिंह का कहना है कि रायबरेली में कांग्रेस जब खुद लड़ती है तो उसे 10 से 20 हजार से ज्यादा वोट नहीं मिलते हैं. रायबरेली में सोनिया अपने सिवा किसी को दूसरे को सांसद, विधायक, एमएलसी और पंचायत प्रमुख का चुनाव नहीं जिता पाती हैं.
एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

ये भी पढ़ें:

BJP नेता का प्रियंका गांधी पर विवादित बयान- स्कर्ट वाली बाई साड़ी पहन मंदिर जाने लगी

UP: पहले चरण की 8 सीटों पर किसका है पलड़ा भारी, कौन मारेगा बाजी

मायावती ने कांग्रेस के घोषणापत्र को बताया छलावा, बीजेपी पर भी किए हमले

सीतापुर: आचार संहिता उल्लंघन मामले में कांग्रेस नेता जितिन प्रसाद के खिलाफ मामला दर्ज

भोजपुरी स्टार निरहुआ ने बताया खुद की जान को खतरा, मिली Y+ श्रेणी की सुरक्षा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज