रायबरेली: यूपी को मिला पहला AIIMS, ओपीडी ट्रायल की शुरुआत

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संसथान (एम्स) दरियापुर में सोमवार से शुरू हो रही ओपीडी से रायबरेली के अलावा प्रदेश के अन्य जनपदों के मरीजों को भी लाभ मिलेगा.

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 13, 2018, 10:57 AM IST
रायबरेली: यूपी को मिला पहला AIIMS, ओपीडी ट्रायल की शुरुआत
रायबरेली एम्स में ओपीडी ट्रायल की शुरुआत
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 13, 2018, 10:57 AM IST
सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली में बन रहे प्रदेश के पहले एम्स की ओपीडी का ट्रायल सोमवार को शुरू हो गया. ट्रायल सफल होने के बाद इसका औपचारिक उद्घाटन किया जाएगा. बता दें 11 साल पहले 2007 में तत्कालीन कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने इसकी नींव रखी थी.

रायबरेली एम्स में आज सुबह आठ बजे से मरीजों के पर्चे बनने लगे. अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संसथान (एम्स) दरियापुर में सोमवार से शुरू हो रही ओपीडी से रायबरेली के अलावा प्रदेश के अन्य जनपदों के मरीजों को भी लाभ मिलेगा. साथ ही लखनऊ के पीजीआई और जिला अस्पताल का भार भी कम होगा. मरीजों को कोई परेशानी न होने पाए इसका भी ख्याल रखा गया है. ओपीडी में सुरक्षा गार्ड के साथ पुलिस भी तैनात रहेगी. रजिस्ट्रेशन शुल्क 10 रुपए रखा गया है.

मौजूदा समय की बात करें तो गंभीर इलाज के लिए रोगियों को लखनऊ लखनऊ स्थित एसपीजीआई की शरण लेनी पड़ रही है. एम्स की ओपीडी शुरू होने से रायबरेली के अलावा अमेठी, सुलतानपुर, प्रतापगढ़, बाराबंकी, फतेहपुर, व कानपुर समेत पूरे प्रदेश के लोग सीधे तौर पर यहां आकर अपना इलाज करा सकेंगे.

एम्स के अधीक्षक अशोक कुमार ने बताया कि सोमवार को ट्रायल शुरू हो गया है. अभी पांच विशेषज्ञ डॉक्टर आ चुके हैं. कुछ अन्य डॉक्टर भी आएंगे. रजिस्ट्रेशन शुल्क 10 रुपए रखा गया है.

कांग्रेस एमएलसी दिनेश सिंह ने सोशल मिडिया पर रायबरेली की सांसद सोनिया गांधी के साथ पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ का धन्यवाद दिया.

एम्स का निरिक्षण करने पहुंचे एम्स के ओएसडी दिगंबर बेहरा की माने तो उनकी कोशिश इलाज के साथ-साथ अगले शैक्षणिक सत्र से छात्रों के प्रवेश प्रक्रिया शुरू करने को लेकर है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर