आयुष्मान भारत एक तरफ, मलबे के बीच एक्स-रे दूसरी तरफ

रायबरेली जिला अस्पताल में मरीजों को बेहतर एक्सरे सुविधा देने के लिए डिजिटल एक्सरे मशीन लगायी जा रही है, जिसके चलते विभाग में मरम्मत का काम तेजी से चल रहा है. निर्माण कार्य करने वाली कम्पनी तोड़फोड़ कर रही है और पूरा मलबा वहीं पर छोड़ दिया गया.

MOHAN KRISHAN | News18 Uttar Pradesh
Updated: September 25, 2018, 12:23 PM IST
आयुष्मान भारत एक तरफ, मलबे के बीच एक्स-रे दूसरी तरफ
रायबरेली के जिला अस्पताल का हाल. Photo: News 18
MOHAN KRISHAN | News18 Uttar Pradesh
Updated: September 25, 2018, 12:23 PM IST
पीएम मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ ने देश की जनता को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध करवाने के लिए अभी 2 दिन पहले ही जोर-शोर से आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत की. लेकिन जिलों में स्वास्थ्य सेवाएं लगातार बदहाल होती जा रही है. ताजा मामला रायबरेली जिला अस्पताल का है. यहां साफ सफाई को ताक पर रखकर मलबे के बीच ओपीडी मरीजों के साथ ही गंभीर भर्ती मरीजों का एक्सरे किया जा रहा है.

एक्सरे विभाग में तैनात कर्मचारी विभगीय अधिकारियो की उदासीनता के चलते मलबे के बीच गंभीर रूप से घायलो का एक्सरे करने को मजबूर है. जिला अस्पताल के एक्सरे विभाग में मलबा पिछले कई दिनों से पड़ा है और जिम्मेदार अधिकारी मरीजों की समस्याओ को कम करने के बजाये बढ़ाने में लगे दिखाई दे रहे है.



रायबरेली जिला अस्पताल में मरीजों को बेहतर एक्सरे सुविधा देने के लिए डिजिटल एक्सरे मशीन लगायी जा रही है, जिसके चलते विभाग में मरम्मत का काम तेजी से चल रहा है. निर्माण कार्य करने वाली कम्पनी तोड़फोड़ कर रही है और पूरा मलबा वहीं पर छोड़ दिया गया. जिसके चलते मरीज गंदगी और मलबे के बीच एक्सरे करवाने को मजबूर हैं. अस्पताल में रोजाना सैकड़ो मरीजों का एक्सरे किया जाता है. लेकिन मरीजों के स्वस्थ्य को दरकिनार कर यहां का जिम्मेदार अधिकारी ठेकेदार पर कोई भी कार्यवाही नहीं कर पा रहे हैं.

जिला अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ एनके श्रीवास्तव ठेकेदार का बचाव करते हुए कह रहे है कि निर्माण कार्य चल रहा है. हम एईआरबी के मानकों के हिसाब से डिजिटल एक्सरे मशीन लगवा रहे हैं, जिसके चलते मलबा एक जगह इकठ्ठा कर दिया गया है. मरीजों का गंदगी के बीच एक्सरे क्यों किया जा रहा है , इसका वह जवाब नहीं दे सके.

ये भी पढ़ें: 

गोरखपुर का रोहन राव बना यूपी का पहला 'आयुष्मान' मरीज, CM योगी के पहल पर इलाज शुरू

अमेठी में बोले राहुल गांधी- आने वाले 2-3 महीने में ऐसा मजा दिखाएंगे आपको...
Loading...

दो प्रोफेसर के खिलाफ SC/ST एक्ट लगने पर गोरखपुर यूनिवर्सिटी का माहौल गरमाया

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...