Home /News /uttar-pradesh /

रायबरेली धर्मांतरण: परिवार को जिंदा जलाने की कोशिश का आरोपी प्रधान ताहिर गिरफ्तार, पढ़ें ग्राउंड रिपोर्ट

रायबरेली धर्मांतरण: परिवार को जिंदा जलाने की कोशिश का आरोपी प्रधान ताहिर गिरफ्तार, पढ़ें ग्राउंड रिपोर्ट

रायबरेली में परिवार को जिंदा जलाने की कोशिश में एक और शख्स गिरफ्तार कर लिया गया है.

रायबरेली में परिवार को जिंदा जलाने की कोशिश में एक और शख्स गिरफ्तार कर लिया गया है.

Raebareli News: रेहान की गिरफ्तारी के बाद बुधवार को एक और आरोपी प्रधान ताहिर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. अभी एक आरोपी द्वारका सिंह पुलिस की पकड़ से दूर है.

रायबरेली. उत्तर प्रदेश के रायबरेली (Raebareli) जिले के सलोन कोतवाली अन्तर्गत रतासों गांव रविवार से सुर्खियों में है. प्रतापगढ़ जिले के बॉर्डर पर स्थित यह गांव सलोन कोतवाली से 5-6 किलोमीटर की दूरी पर है. इस गांव में मुस्लिम समुदाय के अंसारी समाज के लोग बड़ी संख्या में निवास करते हैं. इसके बाद क्षत्रिय समाज के लोग भी खास संख्या बल के साथ यहां रहते हैं. रविवार को इस गांव में धर्मांतरण करने वाले एक परिवार को घर में बंद कर जिंदा जलाने का मामला प्रकाश में आया था. पुलिस ने दो आरोपियों को मौके से दबोचा था.

मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए पुलिस इस मामले में नामजद आरोपियों की लगातार धर-पकड़ कर रही है. मंगलवार को इस मामले एक आरोपी रेहान की गिरफ्तारी की गई और बुधवार को एक और आरोपी प्रधान ताहिर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. अभी इस मामले में एक आरोपी द्वारका सिंह पुलिस की पकड़ से दूर है.

10 वर्ष पूर्व प्रतापगढ़ से आकर बसा था परिवार
देवप्रकाश उर्फ मोहम्मद अनवर मूल रूप से प्रतापगढ़ के गाढ़ी गांव का निवासी हैं. 10 वर्ष पूर्व वो सलोन कोतवाली के रतासों गांव में आकर बस गया था. मोहम्मद अनवर ने तीन शादियां की थीं, उसकी पहली बीवी उसे छोड़ कर चली गई जबकि दूसरी बीवी की मृत्यु हो गई तो उसने तीसरी शादी की और करीब दो वर्ष पूर्व अनबन के बाद उसकी तीसरी पत्नी भी उसे छोड़कर चली गई. सितंबर 2020 में उसने अपने तीन लड़कों के साथ मुस्लिम धर्म छोड़ हिंदू धर्म अपना लिया था.

देवप्रकाश उर्फ मोहम्मद अनवर फकीर जाति से आता है. आरोप है कि जब से उसने धर्म परिवर्तित किया तब से गांव के कुछ लोग उससे रंजिश रखने लगे, लेकिन इस सबके बावजूद उसने पूजा-पाठ करने के लिए उसने घर में ही भगवान की फोटो लगा ली.

शनिवार रात को हुई थी आगजनी की घटना...
देवप्रकाश के धर्म बदलने की चर्चा हो गई तो उसने भी खुलकर अपनी आस्था का इजहार करते हुए घर के बगल में मंदिर की स्थापना शुरू कर दी. इसका एक समुदाय के लोगों ने विरोध किया, लेकिन देवप्रकाश डरा नहीं और न ही उसने काम रोका. आरोप है कि शनिवार देर रात कुछ लोगों ने उसके घर को बाहर से बंदकर आग के हवाले कर दिया, लेकिन जैसे-तैसे वो पीछे के रास्ते से परिवार वालों को लेकर निकला और जान बचाई. पुलिस और फायर ब्रिगेड की टीम मौके पर पहुंची उसने आग पर काबू पाया.

इस मामले में डीएम वैभव श्रीवास्तव और एसपी श्लोक कुमार स्वयं मौके पर पहुंचे थे और पीड़ित से पूछताछ की थी. पुलिस ने तत्काल देव प्रकाश की तहरीर पर प्रधान ताहिर, पूर्व प्रधान अली अहमद, द्वारका सिंह, अकबर और इम्तियाज के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कमालगंज के पास से रतासों के पूर्व प्रधान अली अहमद और इम्तियाज को गिरफ्तार कर लिया था. मंगलवार को पुलिस ने एक अन्य आरोपी रेहान को भी गिरफ्तार कर लिया है और गुरुवार फिर एक आरोपी ताहिर को गिरफ्तार करने में पुलिस कामयाब हो गई है.

ये है घटना के पीछे की अहम बातें...
दरअसल, यह मामला धर्म से जुड़ा है, इसलिए नाम न छापने की शर्त पर स्थानीय लोगों ने बताया कि देवप्रकाश उर्फ अनवर पुत्र मोहम्मद हसन ने 10 वर्ष पूर्व पट्टा स्वामी नन्हू से जमीन खरीदकर यहां निवास शुरू किया था. ग्रामीणों के मुताबिक उसी के घर के बगल वर्ष 1998 में प्रशासन ने अकबर पुत्र जलील के नाम पट्टा स्वीकृत किया था, जिसके बाद से उस जमीन पर मूर्ति स्थापित करने को लेकर पट्टा स्वामी अकबर से विवाद चल रहा था. लोगों का ये भी कहना है कि देवप्रकाश को अगर मंदिर स्थापित ही करना था तो उसके घर के आगे पीछे उसकी स्वयं की जमीन है. आखिर वो उसे छोड़कर जीएस लैंड पर मंदिर क्यों स्थापित करने लगा?

ग्रामीण तो यहां तक बताते हैं कि घटना वाले दिन पहले उसके घर की बिजली काटी गई. आखिर बिजली काटी तो किसने? इसके अतिरिक्त घर के अंदर मिट्टी का चूल्हा आदि वो सामान हैं, जहां से कुछ कदम पहले तक आग के निशान हैं, लेकिन इन सामानों के पास आग नहीं पहुंची ये सब कुछ और ही कहानी बयां कर रहे हैं. ग्रामीणों का कहना है कि पंचायत का चुनाव सर पर है, यहां बराबर प्रधानी अंसारी समाज में रही इसलिए कुछेक तथाकथित लोगों ने प्रधानी के वर्चस्व को लेकर हमारे गांव में विवाद पैदा करा डाला. फिलहाल एसपी श्लोक कुमार का कहना है पुलिस हर पहलू पर जांच कर रही है, जो भी गुण और दोष के आधार पर कार्रवाई की जाएगी.undefined

Tags: Crime in up, Raebareli News, Religious conversion, UP news updates, Uttarpradesh news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर