रायबरेली की युवा विधायक अदिति सिंह को मिल सकती है टीम राहुल में अहम जिम्मेदारी

बीजेपी की लहर में भी 2017 के चुनावों में कांग्रेस के गढ़ को बचाने वाली अदिति सिंह को प्रदेश महिला कांग्रेस कमेटी में अहम जिम्मेदारी मिल सकती है.

Amit Tiwari | News18Hindi
Updated: March 17, 2018, 1:09 PM IST
रायबरेली की युवा विधायक अदिति सिंह को मिल सकती है टीम राहुल में अहम जिम्मेदारी
रायबरेली से कांग्रेस विधायक अदिति सिंह
Amit Tiwari
Amit Tiwari | News18Hindi
Updated: March 17, 2018, 1:09 PM IST
कांग्रेस अध्यक्ष बनने के बाद राहुल गांधी 2019 के लोकसभा चुनाव के पहले अपनी नई टीम बनाने में जुटे हैं. कहा जा रहा है कि टीम राहुल में युवा चेहरों को तवज्जो दी जाएगी. रायबरेली से तेज और तर्रार युवा विधायक अदिति सिंह को भी राहुल गांधी की टीम में अहम जिम्मेदारी मिल सकती है. सूत्रों के मुताबिक बीजेपी की लहर में भी 2017 के चुनावों में कांग्रेस के गढ़ को बचाने वाली अदिति सिंह को प्रदेश महिला कांग्रेस कमेटी में अहम जिम्मेदारी मिल सकती है. इसके अलावा वरिष्ठ कांग्रेसी नेता प्रमोद तिवारी की बेटी आराधना मिश्रा को भी  अहम जिम्मेदारी मिलने की बात कही जा रही है. अदिति सिंह 2017 में पहली बार विधानसभा के लिए चुनी गईं. इससे पहले इस सीट से उनके पिता अखिलेश सिंह पांच बार विधायक रहे.

टीम राहुल में नई जिम्मेदारी मिलने की अटकलों पर न्यूज18 से बातचीत में अदिति सिंह ने कहा, “ मैं एक महिला होने के नाते महिलाओं की समस्याओं को बखूबी जानती और समझती हूं. उत्तर प्रदेश में आज रेप और छेड़छाड़ की बात आम हैं. ऐसे में प्रदेश की महिलाओं के लिए अभी बहुत कुछ किया जाना है. यदि पार्टी का शीर्ष नेतृत्व मुझे कोई जिम्मेदारी देता है तो मैं उसे निभाने के लिए तैयार हूं. हालांकि यह पार्टी नेतृत्व ही तय करेगा कि क्या जिम्मेदारी दी जाती है.”

बता दें अदिति सिंह ने अमेरिका के ड्यूक यूनिवर्सिटी से मैनेजमेंट में मास्टर्स की डिग्री हासिल की है. 2017 में अदिति सिंह ने अपने पिता की सीट से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ा और 90 हजार से ज्यादा मतों से जीत हासिल की. अदिति सिंह को प्रियंका गांधी का करीबी भी माना जाता है. हालांकि रायबरेली की सीट अखिलेश सिंह के प्रभाव वाली सीट है. वे यहां से कांग्रेस से अलग होकर पीस पार्टी से भी चुनाव जीत चुके हैं.

अदिति के अलावा भी उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी में बड़ा फेरबदल देखने को मिल सकता है. सूत्रों के अलावा मौजूदा प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर को नई जिम्मेदारी मिल सकती है. राजबब्बर की जगह किसी ब्राह्मण चेहरे की ताजपोशी हो सकती है. यूपी अध्यक्ष पद के लिए जीतीं प्रसाद, प्रमोद तिवारी और वाराणसी से पूर्व सांसद राजेश मिश्रा का नाम दौड़ में आगे चल रहा है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर