लाइव टीवी

रायबरेली: छात्रों ने बाल कल्याण अधिकारी को पीटा, CCTV में कैद हुई वारदात

MOHAN KRISHAN | News18 Uttar Pradesh
Updated: November 12, 2019, 3:08 PM IST
रायबरेली: छात्रों ने बाल कल्याण अधिकारी को पीटा, CCTV में कैद हुई वारदात
छात्रों ने महिला बाल कल्याण अधिकारी को पीटा

बीते दिनों केंद्र के कुछ छात्रों ने महिला अधिकारी ने शौचालय में बंद कर दिया और सोमवार को तो हालात इतने बिगड़ गए कि कुछ छात्रों ने उसके साथ मारपीट की.

  • Share this:
रायबरेली. गुरु शिष्य परंपरा का बखान करने वाली भारतीय संस्कृति कलयुग में लगातार कमजोर होती जा रही है. आए दिन शिक्षकों द्वारा छात्रों की पिटाई के मामले और वीडियो लगातार सामने आ रहे हैं, लेकिन रायबरेली (Raebareli) में भारतीय शिक्षा पद्धति को शर्मसार करने वाला ऐसा मामला सामने आया जिसमें छात्रों (Students) ने महिला बाल कल्याण अधिकारी की न सिर्फ पिटाई की बल्कि मन न भरने पर प्लास्टिक की कुर्सी से भी हमला कर दिया.

पूरा मामला रायबरेली के मिल एरिया थाना क्षेत्र स्थित चक धौरहरा स्थित गांधी बाल संरक्षण गृह का है, जहां के प्रबंधक और बाल कल्याण अधिकारी के बीच बीते कई महीनों से विवाद चल रहा था. संस्था की बाल कल्याण अधिकारी ममता दुबे ने मैनेजर अरुण मिश्रा पर उत्पीड़न के गंभीर आरोप लगाए, इतना ही नही बाल कल्याण अधिकारी ने मैनेजर पर पूरा वेतन न देने का भी आरोप लगाया और मामला रायबरेली के जिलाधिकारी के चौखट तक पहुंचा. रायबरेली की पूर्व जिलाधिकारी नेहा शर्मा ने मामले की जाँच करवाने के निर्देश जिला प्रोबेशन अधिकारी को दिए साथ ही महिला के अधिकारों की रक्षा करते हुए उसे संस्था में काम करने के आदेश दिए. पीड़ित महिला को भले ही डीएम ने काम करने के निर्देश दिए हो लेकिन संस्था के मैनेजर ने महिला को काम करने का माहौल इतना खराब कर दिया कि आये दिन उसके साथ कोई न कोई घटना होने लगी.



महिला बाल कल्याण अधिकारी ने अधिकारियों से की शिकायत

महिला के साथ संस्था में हो रही घटनाओं की शिकायत सोमवार को ममता दुबे ने सिटी मजिस्ट्रेट से की. संस्था की पीड़ित बाल कल्याण अधिकारी ने बताया कि मैनेजर कुछ छात्रों को लगातार उकसा रहे हैं जिसके परिणामस्वरूप बीते दिनों केंद्र के कुछ छात्रों ने उसे शौचालय में बंद कर दिया, और सोमवार को तो हालात इतने बिगड़ गए कि कुछ छात्रों ने उसके साथ मारपीट की. इतना ही नही उनपर कुर्सी से हमला भी किया. इन सब घटनाओं की शिकायत ममता दुबे जिलाधिकारी शुभ्रा सक्सेना से करने कलेक्ट्रेट पहुंची, लेकिन वह नहीं मिली. जिसके बाद उसने सिटी मजिस्ट्रेट युगराज सिंह से मिलकर पूरे मामले की शिकायत की.

संस्था के भीतर बाल कल्याण अधिकारी की छात्रों द्वारा पिटाई की घटना, वहां लगे सीसीटीवी में कैद हो गई. जिसके बाद मामला सबके सामने आया कि किस तरह से गांधी बाल संरक्षण केंद्र के मैनेजर अपने हित साधने के लिए छात्रों का उपयोग करते हैं.

ये भी पढ़ें:रायबरेली: कस्तूरबा आवासीय विद्यालय की वार्डन का वीडियो वायरल, छात्राओं से करवाती हैं हेड मसाज

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायबरेली से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 12, 2019, 2:02 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर