रायबरेली ट्रेन हादसा: रेलवे ने जारी की हेल्पलाइन नंबर, इन नंबरों पर ले सकते हैं जानकारी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हादसे पर शोक प्रकट करते हुए मृतकों के परिजनों के लिए दो-दो लाख रुपए और घायलों के लिए 50-50 हजार रुपए मुआवजे का ऐलान किया है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: October 10, 2018, 9:59 AM IST
रायबरेली ट्रेन हादसा: रेलवे ने जारी की हेल्पलाइन नंबर, इन नंबरों पर ले सकते हैं जानकारी
शवों को निकालकर ले जाते एनडीआरएफ की टीम
News18 Uttar Pradesh
Updated: October 10, 2018, 9:59 AM IST
रायबरेली के हरचंदपुर रेलवे स्टेशन के आउटर पर बुधवार सुबह साढ़े छह बजे के करीब फरक्का से दिल्ली जा रही 14003 न्यू फरक्का एक्सप्रेस हादसे का शिकार हो गई. इंजन समेत पांच बोगियां बेपटरी हो गईं. इस हादसे में 7 लोगों की मौत हो गई, जबकि 35 से ज्यादा घायल हैं. जिनमें कईयों की हालत गंभीर बनी हुई है.

इस बीच रेलवे ने हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है. ट्रेन हादसे की जानकी इन नम्बरों पर ली जा सकती है.

पटना
0612-2202290

दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन (मुगलसराय)
05412-254145 व रेलवे-027-73677
रायबरेली-- 0535- 2213154
प्रतापगढ़-- 0534- 2220492

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हादसे पर शोक प्रकट करते हुए मृतकों के परिजनों के लिए दो-दो लाख रुपए और घायलों के लिए 50-50 हजार रुपए मुआवजे का ऐलान किया है.

बता दें मौके पर राहत बचाव कार्य जारी है. एनडीआरएफ की टीम बोगियों में फंसे लोगों को तलाश रही है. सभी घायलों को अस्पताल भेजा जा चुका है.  हादसे के वक्त ट्रेन में यात्रा कर रहे न्यूज18यूपी के रिपोर्टर पुरुषोत्तम सिंह ने बताया कि ट्रेन 5.40 बजे रायबरेली स्टेशन पहुंची. पांच मिनट रुकने के बाद ट्रेन रवाना हुई. इसके बाद करीब साढ़े छह बजे हरचंदपुर रेलवे स्टेशन के आउटर पर एक झटके के साथ इंजन समेत आगे की पांच बोगियां पटरी से उतर गईं. जिसके बाद अफरा-तफरी का माहौल हो गया. इंजन के साथ वाले जनरल बोगी में सैकड़ों लोग फंस गए. उसी के पीछे की एक बोगी में पश्चिम बंगाल का एक परिवार भी सफ़र कर रहा था. परिवार के चार सदस्यों में से एक महिला, बच्चे और एक व्यक्ति की तत्काल मौत हो गई. वहीं एक अन्य बच्चा छिटककर ट्रेन की पहियों के नीचे आ गया. चारों की मौके पर ही मौत हो गई.

चश्मदीद के मुताबिक हादसा इतना भयानक था कि देखकर रूह कांप गई. स्टेशन पर मालगाड़ी से सीमेंट की बोरियां उतार रहे मजदूर दौड़कर पहुंचे और यात्रियों को बाहर निकालने का काम शुरू किया. इसके बाद करीब एक घंटे बाद जिला प्रशासन और पुलिस के लोग पहुंचे.

यह भी पढ़ें:

रायबरेली रेल हादसा: चश्मदीद ने बताया, कैसे पश्चिम बंगाल के एक परिवार का उजड़ गया कुनबा

रायबरेली: न्यू फरक्का एक्सप्रेस पटरी से उतरी, 7 की मौत, मृतकों को 2-2 लाख मुआवजे का ऐलान

रायबरेली रेल हादसा: DGP ने साजिश से किया इनकार, ATS की टीम रवाना

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...