Home /News /uttar-pradesh /

UP Chunav: स्वामी के बेटे को ऊंचाहार से लड़ाने पर MLA मनोज पांडे की अखिलेश से हुई बात, दिया ये बड़ा बयान

UP Chunav: स्वामी के बेटे को ऊंचाहार से लड़ाने पर MLA मनोज पांडे की अखिलेश से हुई बात, दिया ये बड़ा बयान

स्वामी प्रसाद के बेटे को लेकर ऊंचाहार विधायक मनोज पांडे का बयान सामने आया है.

स्वामी प्रसाद के बेटे को लेकर ऊंचाहार विधायक मनोज पांडे का बयान सामने आया है.

UP Election 2022: स्वामी प्रसाद मौर्य ने बीजेपी छोड़ी तो यूपी में कई तरह की अटकलें शुरू हा गईं. स्वामी की ओर से अखिलेश यादव को दिए प्रस्ताव में ऊंचाहार उत्कृष्ट मौर्य के लिए टिकट मांगने की भी चर्चा रही. यहां मनोज पांडे सपा से विधायक हैं. इसी सांशय पर अब खुद मनोज पांडे की अखिलेश यादव से मुलाकात हुई है, जिसके बाद पांडे ने ​कहा कि उनके ऊंचाहार से चुनाव लड़ने की सहमति हुई है. फिर भी अखिलेश यादव की सबकुछ हैं. पार्टी जो कहेगी वह मैं करने को तैयार हूं.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya) के बीजेपी छोड़ने के बाद यूपी का ​सियासी मिजाज बदला है. स्वामी की अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) से मुलाकात के बाद इतना तो तय है कि वह समाजवादी पार्टी की साइकिल पर सवार होने की तैयारी कर चुके हैं. इस बीच स्वामी प्रसाद और उनके बेटे उत्कृष्ट मौर्य के चुनावी क्षेत्र को लेकर भी तमाम तरह की चर्चाएं रही हैं. खबर थी कि स्वामी प्रसाद मौर्य ने अपने बेटे उत्कृष्ट मौर्य के लिए ऊंचाहार से टिकट मांगा है और इस पर अखिलेश की कुछ हद तक सहमति भी है, लेकिन ऊंचाहार सीट पर मनोज पांडे सपा से विधायक हैं और इसी को लेकर चल रहे संशय पर अब मनोज पांडे की ओर से भी प्रतिक्रिया आ गई है.

बीजेपी को अलविदा कहने वाले स्वामी प्रसाद मौर्य द्वारा अपने बेटे के लिए ऊंचाहार सीट मांगने की चर्चा पर सपा विधायक मनोज पांडे की ओर से कहा गया है कि वह तो अखिलेश यादव के लिए ही समर्पित हैं. अखिलेश यादव ही सब कुछ हैं. उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से मुलाकात हो गई है और इसमें ऊंचाहार से चुनाव लड़ने की सहमति हुई है. हालांकि पार्टी जो कहेगी उसको करने के लिए मैं तैयार हूं. तमाम अटकलों पर ऊंचाहार विधायक मनोज पांडे ने कहा कि मैं पार्टी से ऊपर नहीं हूं. राष्ट्रीय अध्यक्ष का जो आदेश रहेगा वही करूंगा.

इधर जारी है घमासान
स्वामी के इस्तीफे से भाजपा में घमासान जारी है. मौर्य के साथ तीन विधायक पहले ही इस्तीफा दे चुके हैं. माना जा रहा है कि स्वामी के साथ-साथ कम से कम पांच-छह विधायक भाजपा का दामन छोड़ सकते हैं. ऐसे में भारतीय जनता पार्टी अपनी इस टूट को टालने की कोशिश में जुट गई है. अमित शाह के निर्देश पर स्वतंत्र देव सिंह और सुनील बंसल मोर्चा संभाल चुके हैं. सुनील बंसल और स्वतंत्र देव सिंह लगातार नाराज विधायकों को फोन कर मनाने में जुटे हुए हैं.

इधर, कयास लगाए जा रहे हैं कि स्वामी प्रसाद मौर्य अपने तीन समर्थकों तिंदवारी विधायक बृजेश प्रजापति, बिल्हौर के भगवती सागर और तिलहर के रोशनलाल वर्मा के साथ समाजवादी पार्टी का दामन थाम सकते हैं. इसके अलावा, औरैया के बिधूना सीट से बीजेपी विधायक विनय शाक्य के भी पार्टी छोड़ने की खबर आ रही है.

Tags: Akhilesh yadav, Assembly Election, Swami prasad maurya, UP Election 2022

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर