रायबरेली: सब्जी बेचने वाले का बेटा बना दरोगा, खुद भी बेचा था अखबार

दरोगा बनाने के बाद अमित ने बताया कि वर्ष 2013 में उसे रेलवे में हेल्पर की नौकरी मिल गई. 2018 तक उसने रेलवे में हेल्पर की इस बीच में कंपटीशन की तैयारी भी करता रहा.

MOHAN KRISHAN | News18 Uttar Pradesh
Updated: November 2, 2018, 6:06 PM IST
रायबरेली: सब्जी बेचने वाले का बेटा बना दरोगा, खुद भी बेचा था अखबार
अमित गुप्ता
MOHAN KRISHAN | News18 Uttar Pradesh
Updated: November 2, 2018, 6:06 PM IST
उत्तर प्रदेश के रायबरेली जिले में एक सब्जी बेचने वाले का बेटा और खुद अखबार बांटने वाला युवा शुक्रवार को पासिंग आउट परेड के बाद अब दरोगा बन गया. अमित का कहना है कि नई जिम्मेदारी समाज और सरकार की आशाओं के आधार पर पूरा करने की हरसंभव कोशिश करेंगे.

ऊंचाहार कस्बे के रहने वाले अमित कुमार गुप्ता के पिता राम सहारे सब्जी बेचते हैं. इस व्यापार में घाटा हो गया तो भाई-बहनों में सबसे बड़े अमित ने हाथ बटाने के लिए अखबार बांटना शुरू कर दिया. अमित के पिता ने बताया कि मेरे बेटे ने एक नहीं पूरे 10 साल अखबार बांटा है. इस दौरान वह अपनी पढ़ाई भी करता रहा.

दरोगा बनाने के बाद अमित ने बताया कि वर्ष 2013 में उसे रेलवे में हेल्पर की नौकरी मिल गई थी. 2018 तक उसने रेलवे में हेल्पर की नौकरी की, इस बीच में कंप्टीशन की तैयारी भी करता रहा. उसने दरोगा की परीक्षा पास की. इसके बाद ट्रेनिंग भी सफलतापूर्वक पूरी करने के बाद वह अब दरोगा बन गया. उसे पहली पोस्टिंग गोरखपुर में मिली है.

भाई बहनों में सबसे बड़े अमित का इरादा पीसीएस अधिकारी बनने का है. नई नौकरी के साथ वह पीसीएस की तैयारी भी करते रहेंगे. अमित का कहना है कि नई जिम्मेदारी समाज और सरकार की आशाओं के आधार पर पूरा करने की कोशिश करेंगे. अमित के इस उपलब्धि से पूरे इलाके में खुशी की लहर है.

ये भी पढ़ें:

उन्नाव: बॉयफ्रेंड से बात कर रही लड़की को पिता ने मारी गोली, मौत

चोरों ने गैस कटर से काटा ATM, सायरन ने बचा ली लाखों की रकम
शामली: सपने में दिखे 'राम' तो धर्म परिवर्तन कर शहजाद से बन गए संजू
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...