• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • RAE BARELI VIDEO REBEL MLA CONGRESS RAE BARELI GOES VIRAL CLAIMS BUY VOTES FROM MONEY CGNT

रायबरेली में कांग्रेस के बागी विधायक का वीडियो वायरल, पैसों से वोट खरीदने का दावा

विधायक का वीडियो वायरल.

सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली से कांग्रेस (Congress) के बागी विधायक एवं बीजेपी नेता व एमएलसी दिनेश सिंह के भाई राकेश सिंह का कथित भ्रष्टाचार को उजागर करने वाला एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है.

  • Share this:
रायबरेली. सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली से कांग्रेस (Congress) के बागी विधायक एवं बीजेपी नेता एमएलसी दिनेश सिंह के भाई राकेश सिंह का कथित भ्रष्टाचार को उजागर करने वाला एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है. कोरोना काल में तमाम धार्मिक और राजनीतिक कार्यक्रमों पर सरकार ने पाबंदी लगा रखी है. वायरल वीडियो में दावा किया जा रहा है कि पाबंदी के बाद भी विधायक जमावड़ा लगाकर जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए होने वाले चुनाव के लिए गुणा-गणित लगा रहे हैं. 

वायरल वीडियो में विधायक राकेश सिंह लोगों को संबोधित करते हुए कह रहे हैं- एक मिनट आप हमारी बात सुन लो उसके बाद हम आपकी बात सुनेंगे. सतीश को अगर आप जितवाते हैं तो वो हमको फ्री में वोट देते, लेकिन आप लोगों ने दिनेश को हमसे विरोध करके जितवा दिया. क्या उन्होंने किया? पूर्व विधायक राम नरेश यादव के घर पर एक बोरिया रुपया लेकर के उन्होंने हमसे वोट हम ही को दिया. उससे आप लोगों को कुछ मिला? ये तो सौभाग्य कहो हमलोग इसी ब्‍लॉक के रहने वाले थे, इसी क्षेत्र के रहने वाले थे. इसलिए जिला पंचायत से काम हो गया. जैसे हम लोग जिला पंचायत अध्यक्ष का चुनाव लड़ते हैं और सलोन तहसील का कोई जिला पंचायत अध्यक्ष हमसे पैसा लेकर वोट देता है तो उसके क्षेत्र में कुछ काम होता है पांच साल? नहीं होता न. उसी प्रकार इनके क्षेत्र में भी नही होता. इसलिए हुआ के मैं यहां से विधायक हूं, हमारा ब्लाक प्रमुख है. बड़े भाई एमएलसी हैं और इसी क्षेत्र के रहने वाले हैं. इसीलिए यहां जिला पंचायत से काम दिखाई पड़ रहा है.

लग रहे ये आरोप
विधायक राकेश के भाई अवधेश सिंह पूर्व में जिला पंचायत अध्यक्ष थे. इस बार उन्होंने अपना जिला पंचायत अध्यक्ष बनवाने के लिए सुमन सिंह को हरचंदपुर तृतीय वार्ड से जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लड़वाया, लेकिन वो चुनाव हार गईं. आरोप लग रहे हैं कि अब किसी और को वो मैदान में उतारे और जिला पंचायत में अपना वर्चस्व कायम कर सकें, इसके लिए विधायक अभी से पेशबंदी में लग गए हैं. दो-तीन दिन पूर्व उन्होंने हरचंदपुर क्षेत्र में रात के अंधेरे में लोगों को जमा करके भ्रष्टाचारी बोल सुनाए.
Published by:Neelesh Tripath
First published: