UP News: ब्राह्मणों पर फिर गरमाई यूपी की सियासत, जानिए एमएलसी दिनेश शर्मा ने वायरल ऑडियो में क्या कहा?

 एमएलसी दिनेश सिंह और तत्कलीन सीओ विनीत सिंह के कथित ऑडियो वायरल

एमएलसी दिनेश सिंह और तत्कलीन सीओ विनीत सिंह के कथित ऑडियो वायरल

Uttar Pradesh News: बीजेपी एमएलसी दिनेश सिंह और सीओ विनीत सिंह के कथित वायरल ऑडियो में वर्ष 2019 में सदर विधायक अदिति सिंह पर हुए हमले से जुड़े मुकदमें को लेकर की गई बातचीत हो रही है.

  • Share this:

डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा के प्रभार वाले उत्तर प्रदेश के जिला रायबरेली में बीजेपी के टिकट पर लोकसभा का चुनाव लड़ चुके एमएलसी दिनेश सिंह और तत्कलीन सीओ विनीत सिंह के कथित ऑडियो वायरल होने के बाद यहां की सियासत गर्मा गई है. सोशल मीडिया पर वायरल ऑडियो में एमएलसी ने ब्राह्मण को बीमारी बताया है. पहले से ही ब्राहम्णो को लेकर चौतरफा घिरी सरकार बीजेपी नेता के बयान के बाद सवालों के घेरे में आ गई है.

आपको बता दें कि एमएलसी दिनेश सिंह और सीओ विनीत सिंह के कथित ऑडियो में हुई बातचीत वर्ष 2019 में सदर विधायक अदिति सिंह पर हुए हमले से जुड़े मुकदमें को लेकर की गई बातचीत की है. दरअसल, 2019 में विधायक अदिति सिंह पर कथित रूप से हमला किया गया था अदिति सिंह की गाड़ी काफी दूर तक दबंगों से बचते हुए आगे चलती गई थी और फिर अचानक अनियंत्रित होकर पलट गई थी. उनके काफिले की तीन अन्य गाड़ियां भी पलट गईं. हादसे में अदिति सिंह घायल हो गई हैं, जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

यह घटना रायबरेली में हरचंदपुर थाना क्षेत्र के मोदी स्कूल के पास हुई. हादसा तब हुआ था जब अदिति सिंह रायबरेली जिला पंचायत अध्यक्ष अवधेश सिंह के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर हो रही वोटिंग में अपने समर्थकों के साथ गई थीं. अवधेश सिंह, सोनिया गांधी के खिलाफ चुनाव लड़ने वाले एमएलसी दिनेश सिंह के भाई हैं और उनके ऊपर ही अदिति सिंह पर हमला करवाने का आरोप लगा था.

वहीं एमएलसी समर्थकों ने जिला पंचायत सदस्य राकेश अवस्थी के साथ भी मारपीट की थी. इसका मामला भी दर्ज हुआ था. इसकी विवेचना तत्कालीन एसपी सुनील सिंह के समय में चल रही थी. एमएलसी दिनेश सिंह और एसपी सुनील सिंह की बनती भी नहीं थी, तो उन्हें तत्कालीन एसपी से जांच में खतरा था. इसी को लेकर उन्होंने तत्कालीन सीओ विनीत सिंह से फोन पर बात की थी. फिलहाल 2020 में सीओ का भी जिले से ट्रांसफर हो गया है. इस मामले पर अभी तक एमएलसी दिनेश सिंह की तरफ से कोई सफाई नही दी गई है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज