लाइव टीवी

आजम की जौहर यूनिवर्सिटी पर संकट, 12 किसानों को वापस दिलाई गई उनकी जमीन

News18 Uttar Pradesh
Updated: January 23, 2020, 7:12 PM IST
आजम की जौहर यूनिवर्सिटी पर संकट, 12 किसानों को वापस दिलाई गई उनकी जमीन
आजम खान (फाइल फोटो)

आरोप है कि 26 किसानों की जमीन पर अवैध ढंग से कब्जा कर उसे यूनिवर्सिटी में मिला लिया गया. इन 26 किसानों ने मामले में मुकदमा दर्ज कराया था, वहीं ज़िला प्रशासन की तरफ से भी एक एफआईआर दर्ज की गई थी. इसके बाद आज़म खान (Azam Khan) को भू माफिया घोषित किया गया था.

  • Share this:
रामपुर. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के रामपुर (Rampur) में समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान (Azam Khan) की जौहर यूनिवर्सिटी (Jauhar University) के खिलाफ जिला प्रशासन की कार्रवाई जारी है. जिला प्रशासन किसानों की जमीन की नपाई करा रहा है. जानकारी के अनुसार अब तक करीब 12 किसानों को उनकी जमीन पर कब्जा दिला दिया गया है, वहीं बाकी किसानों को कब्जा दिलाने की कार्रवाई चल रही है. बता दें कि आजम खान जौहर यूनिवर्सिटी के संस्थापक हैं.

आरोप है कि किसानों की जमीन पर अवैध ढंग से कब्जा कर उसे जौहर यूनिवर्सिटी में मिला लिया गया. ये मामला 26 किसानों की करीब 20 बीघा जमीन का है. इन 26 किसानों ने मामले में मुकदमा दर्ज कराया था. वहीं जिला प्रशासन की तरफ से भी एक एफआईआर दर्ज की गई थी. इसके बाद आजम खान को भू-माफिया घोषित किया गया था.

एक अन्य मामले मे दो भवन हो चुके हैं सीज
बता दें कि एक दूसरे मामले में उत्तर प्रदेश शासन के निर्देश पर जिला प्रशासन ने जौहर यूनिवर्सिटी से जमीन वापस लेने की कार्रवाई शुरू कर दी है. बुधवार को भारी पुलिस बल के साथ जिला प्रशासन यूनिवर्सिटी पहुंचा और नपाई शुरू की और जौहर यूनिवर्सिटी के दो भवन सीज कर दिए. दरअसल आजम खान पर श्रम विभाग का एक करोड़ 37 लाख रुपये सेस का बकाया था. जमा नहीं करने पर श्रम विभाग ने आरसी जारी की थी. भवन की कीमत का अनुमान लगाकर जौहर यूनिवर्सिटी के दो भवन सीज कर दिए गए.

दरअसल पिछले दिनों जौहर विश्वविद्यालय के लिए दलितों की जमीन नियम विरुद्ध खरीदने में फंसे एसपी सांसद और यूनिविर्सिटी के चांसलर मोहम्मद आजम खान को राजस्व परिषद से बड़ा झटका लगा था. राजस्व परिषद ने पूर्व कमिश्नर के आदेश को खारिज करते हुए राज्य सरकार के पक्ष में फैसला सुनाया है. जिसके तहत जौहर ट्रस्ट की ओर से बनवाए गए इस विश्वविद्यालय के कब्जे से दलितों की 104 बीघा जमीन वापस होगी.

(इनपुट: विशाल सक्सेना)

ये भी पढ़ें:-पहली रैली में बोले जेपी नड्डा- मानसिक दिवालियेपन से गुजर रहा कांग्रेस नेतृत्व

70 साल का हुआ उत्तर प्रदेश, 24 जनवरी से 3 दिन तक चलेगा स्थापना दिवस समारोह

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रामपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 23, 2020, 6:12 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर