• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • दो महीने बाद रामपुर पहुंचे आजम खान, पत्नी के नामांकन में हुए शामिल, लगे जिंदाबाद के नारे

दो महीने बाद रामपुर पहुंचे आजम खान, पत्नी के नामांकन में हुए शामिल, लगे जिंदाबाद के नारे

दो महीने बाद रामपुर पहुंचे आजम खान

दो महीने बाद रामपुर पहुंचे आजम खान

आजम खान (Azam Khan) को अपने बीच देखकर कार्यकर्ताओं में भी जोश भर गया. इस दौरान आजम खान जिंदाबाद के नारे भी लगे.

  • Share this:
    रामपुर. भूमाफोया घोषित होने और तकरीबन 84 मुकदमे दर्ज होने के दो महीने बाद सपा संसद आजम खान (Azam Khan) सोमवार को पहली बार रामपुर (Rampur) पहुंचे. आजम खान पत्नी तजीन फातिमा (Tazeen Fatima) के नामांकन में शामिल हुए. समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) ने आजम की पत्नी तजीन फातिमा को उपचुनाव (By Election) में प्रत्याशी बनाया है. हालांकि देखना दिलचस्प होगा कि आजम खान स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम (Special Investigation Team) के समक्ष पेश होते हैं कि नहीं. बता दें आजम खान को एसआईटी ने जमीन कब्जे के मामले में पेश होने का नोटिस भेजा है. उन्हें आज ही पेश होना है. इससे पहले भेजे गए नोटिस का उन्होंने जवाब नहीं दिया था और न ही पेश हुए थे.

    अखिलेश के रामपुर दौरे पर भी गायब थे आजम खान

    बता दें 13 सितंबर को जब समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव रामपुर पहुंचे थे, तब भी आजम खान नहीं आए थे. अखिलेश यादव आजम के समर्थन में ही रामपुर गए थे. लेकिन आज पत्नी के नामांकन के दौरान आजम शामिल हुए. इतना ही नहीं आजम खान को अपने बीच देखकर कार्यकर्ताओं में भी जोश भर गया. इस दौरान आजम खान जिंदाबाद के नारे भी लगे. अब देखना है कि जौहर यूनिवर्सिटी के लिए जमीन कब्जे के आरोपों में फंसे आजम खान एसआईटी के समक्ष पेश होते हैं कि नहीं.

    azam khan wife tazeen fatima
    आजम खान की पत्नी तजीन फातिमा ने किया नामांकन


    आजम खान ने दिखाई ताकत

    आजम खान के पहुंचते ही सपा कार्यकार्यकर्ताओं में जबरदस्त उत्साह देखने को मिला. सैकड़ों की संख्या में पहुंचे सपा कार्यकर्ताओं ने जमकर नारेबाजी की. कलेक्ट्रेट में भी आजम के साथ ही सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद रहे.समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) ने अपने इस मजबूत किले को बचाने की जिम्मेदारी आजम खान (Azam Khan) को सौंपी है. बता दें आजम खान इस सीट से 9 बार विधायक रहे हैं. इतना ही नहीं 1993 के बाद से समाजवादी पार्टी यह सीट कभी नहीं हारी. लेकिन इस बार परिस्थितियां अलग हैं. 84 से ज्यादा मुकदमों में फंसे आजम खान और उनके परिवार के लिए यह सीट प्रतिष्ठा का भी विषय बन गई है. जहां एक ओर पार्टी को लगता है कि मुस्लिम बाहुल इस सीट पर आजम के खिलाफ हो रही कार्रवाई से सहानुभूति का लाभ मिलेगा, वहीं वह बीजेपी के साथ-साथ बसपा व कांग्रेस को भी करारा जवाब देने में सफल होगी.

    बीजेपी के भारत भूषण ने भी किया नामांकन

    उधर बीजेपी प्रत्याशी भारत भूषण गुप्ता ने भी आज नामांकन दाखिल किया. इस कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य और राज्य मंत्री बलदेव औलख भी मौजूद रहे.

    (रिपोर्ट: विशाल सक्सेना)

    ये भी पढ़ें:

    आर्टिकल 370 की वजह से UP उपचुनाव ही नहीं, महाराष्ट्र व हरियाणा भी जीतेंगे

    आजम खान के किले को बचाने मैदान में उतरीं पत्नी तजीन फातिमा, बीजेपी ने कसा तंज

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज