आजम खान की जौहर यूनिवर्सिटी को लेकर चर्चा में गृह मंत्री अमित शाह का ये आश्वासन...

दरअसल यूपी सरकार में मंत्री रहे नवेद मियां ने गृह मंत्री को खत लिखकर जानकारी दी थी कि आजम खान द्वारा शत्रु संपत्ति की काफी जमीन को अवैध ढंग से जौहर यूनिवर्सिटी के लिए हथिया लिया था.

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 23, 2019, 10:58 PM IST
आजम खान की जौहर यूनिवर्सिटी को लेकर चर्चा में गृह मंत्री अमित शाह का ये आश्वासन...
देश के गृह मंत्री अमित शाह ने यूपी में राज्य मंत्री रहे नवाब काजिम अली खां उर्फ नवेद मियां को भरोसा दिलाया है कि जौहर युनिवर्सिटी के लिए कब्जाई गई शत्रु संपत्ति को कब्जामुक्त करवा दिया जाएगा.
News18 Uttar Pradesh
Updated: July 23, 2019, 10:58 PM IST
देश के गृह मंत्री अमित शाह ने यूपी में राज्य मंत्री रहे नवाब काजिम अली खां उर्फ नवेद मियां को भरोसा दिलाया है कि जौहर यूनिवर्सिटी के लिए कब्जाई गई शत्रु संपत्ति को कब्जामुक्त करवा दिया जाएगा. दरअसल नवेद मियां ने गृह मंत्री को खत लिखकर जानकारी दी थी कि आजम खान द्वारा शत्रु संपत्ति की काफी जमीन को अवैध ढंग से जौहर यूनिवर्सिटी के लिए हथिया लिया था. आजम खान गलत तरीके से इस संपत्ति पर काबिज हैं. इसकी जानकारी खुद नवेद मियां ने दी है.

नवेद मियां के मुताबिक गृह मंत्री ने उन्हें खत लिखकर भरोसा दिया है कि जौहर यूनिवर्सिटी में शामिल की गई शत्रु संपत्ति को कब्जा मुक्त कराने के लिए समुचित कार्रवाई की जाएगी.

प्रशासन ने रद्द की जमीन की लीज
रामपुर जिला प्रशासन ने सपा के कद्दावर नेता आजम खान को भू-माफिया घोषित करने के बाद अब उनके मौलाना अली जौहर ट्रस्ट की दो बिल्डिंग की लीज रद्द करने की संस्तुति की है. हालांकि इस मामले की जांच एसआईटी कर रही है, लिहाजा इस पर अंतिम फैसला उसे ही लेना है. दरअसल जिन दो बिल्डिंगों की लीज रद्द करने की संस्तुति की गई है, कभी वहां पर डेढ़ सौ साल पुराना ओरिएंटल कॉलेज हुआ करता था. लेकिन जमीन कब्जाने के लिए कई तरह के खेल हुए. जिला प्रशासन की जांच रिपोर्ट में इसका खुलासा हुआ है. यह रिपोर्ट भी शासन को भेज दी गई है.

नवेद मियां


आजम खान के खिलाफ जमीन अतिक्रमण के 23 मामले दर्ज
समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान के खिलाफ 23 एफआईआर दर्ज की गई हैं. ये सभी मामले जमीन अतिक्रमण के हैं.
Loading...

नवेद मियां का पत्र


रामपुर के एसपी अजय पाल शर्मा के मुताबिक किसानों द्वारा दर्ज कराई गई शिकायतों में कहा गया है कि आजम खान के कहने पर पुलिस अधिकारी उन्‍हें प्रताड़‍ित करते थे. और उनकी जमीनें अवैध रूप से छीन लीं. फिलहाल मामले को देखने के लिए एक टीम का गठन किया गया है.

ये भी पढ़ें:

सोनभद्र: चुपके से उम्भा गांव पहुंचे भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर, पीड़ितों के लिए मांगी सुरक्षा

चित्रकूट: एंबुलेंस नहीं मिली तो बाइक पर शव लेकर गया पिता

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रामपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 23, 2019, 10:33 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...