होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /

रामपुर में सपा विधायक आजम खान पर एक और केस, यतीमखाना मामले के गवाह ने 6 लोगों पर कराई एफआईआर

रामपुर में सपा विधायक आजम खान पर एक और केस, यतीमखाना मामले के गवाह ने 6 लोगों पर कराई एफआईआर

सपा नेता और विधायक आज़म खान पर रामपुर में एक और मुक़दमा दर्ज किया गया है.

सपा नेता और विधायक आज़म खान पर रामपुर में एक और मुक़दमा दर्ज किया गया है.

Azam Khan Case: रामपुर कोतवाली के एसओ गजेंद्र सिंह ने बताया कि नन्हें ने 2019 में सदर कोतवाली में आजम खान के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था. नन्हें का यतीमखाना बस्ती में घर था, जिसे तत्कालीन सपा सरकार में ध्वस्त कर दिया गया था. आजम खान के मौलाना मोहम्मद अली जौहर ट्रस्ट ने रामपुर पब्लिक स्कूल का निर्माण इस यतीमखाना की जमीन पर करा दिया.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

गवाह नन्हे का कहना है कि आरोपियों को सामने आने पर वह उन्हें पहचान लेगा.
आजम खान के डर और दहशत की जांच कराई जाए, उनके डर के आगे कोई बोल नहीं पाता है.
पुलिस ने आजम खान व अन्य 5 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

रामपुर: सपा नेता और विधायक आज़म खान पर रामपुर में एक और मुक़दमा दर्ज किया गया है. यतीमखाना प्रकरण के गवाह ने आज़म खान सहित 6 अज्ञात लोगों पर मुक़दमा दर्ज कराया है. उसने पुलिस को बताया कि उसे गवाही न देने के लिए धमकाया गया है. रामपुर पुलिस ने अलग-अलग धाराओं में मुक़दमा दर्ज कर लिया है. गवाह नन्हें को धमकाने का आरोप है. पीड़ित नन्हे ने दर्ज कराया है केस. 2019 में दर्ज मुक़दमे में गवाह है नन्हें. शहर कोतवाली में केस दर्ज हुआ है. पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है.

नन्हे पुत्र अली बहादुर थाना कोतवाली क्षेत्र के बेरियान का रहने वाला है. एसओ गजेंद्र सिंह ने बताया कि नन्हें ने 2019 में सदर कोतवाली में आजम खान के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था. नन्हें का यतीमखाना बस्ती में घर था, जिसे तत्कालीन सपा सरकार में ध्वस्त कर दिया गया था. आजम खान के मौलाना मोहम्मद अली जौहर ट्रस्ट ने रामपुर पब्लिक स्कूल का निर्माण इस यतीमखाना की जमीन पर करा दिया.

घर आकर पांच लोगों ने गवाही न देने के लिए धमकाया
बुधवार को इसी मामले में कोर्ट में सुनवाई होनी थी. इससे पहले वह थाना कोतवाली में पहुंच गया. नन्हें ने कहा कि आजम खान के केस में मैं वादी और गवाह हूं. आज सुबह घर पर करीब 5 अज्ञात लोग पहुंचे और कहा कि आजम खान के केस में तुम्हारी गवाही है. तुम सही गवाही नहीं दोगे. गवाही नहीं देने के लिए धमकाया और फिर फरार हो गए.

नन्हें ने कहा- आरोपियों को सामने आने पर पहचान लूंगा
नन्हे का कहना है कि आरोपियों को सामने आने पर वह उन्हें पहचान लेगा. आजम खान के डर और दहशत की जांच कराई जाए, आजम खान की दहशत के आगे कोई बोल नहीं सकता है. पुलिस ने आजम खान व अन्य 5 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. बता दें कि सपा नेता के खिलाफ पहले ही करीब 90 मुकदमे चल रहे हैं, जिसमें लगातार सुनवाई चल रही है. आजम खान इन दिनों जमानत पर जेल से बाहर हैं. नन्हें ने आजम खान के खिलाफ धारा 452, 389, 427, 448, 395, 504, 506, 120बी आईपीसी के तहत दर्ज मुकदमे का वादी है.

2019 में यतीमखाना के 11 लोगों ने मुकदमे दर्ज कराए थे. अब आजम खान पर धारा 147,195-A, 506 और 120B में मुक़दमा दर्ज किया गया है.

Tags: Azam Khan, Rampur news, Rampur Police, UP police

अगली ख़बर