सपा सांसद आजम खान को बड़ा झटका, सेशन कोर्ट ने खारिज की अग्रिम जमानत याचिका

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 31, 2019, 10:22 PM IST
सपा सांसद आजम खान को बड़ा झटका, सेशन कोर्ट ने खारिज की अग्रिम जमानत याचिका
समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान की अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी गई है.

रामपुर से समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के सांसद आजम खान (Azam Khan) की अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी गई है. यह याचिका 34 मामलों में सेशन कोर्ट में दाखिल की गई थी.

  • Share this:
रामपुर से समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के सांसद आजम खान (Azam Khan) की अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी गई है. यह याचिका 34 मामलों में सेशन कोर्ट में दाखिल की गई थी. 29 मामलों में कोर्ट आजम खान की अग्रिम जमानत याचिका पहले ही खारिज कर चुका है. इसके बाद अब एक और अग्रिम जमानत याचिका कोर्ट खारिज कर दी है. जमीन कब्जाने के मामले में दाखिल उनकी एक और अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी गई है. सेशन कोर्ट ने उनकी अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी है.

इससे पहले शुक्रवार को उनके खिलाफ रामपुर के शहर कोतवाली में मारपीट और जान से मारने की धमकी देने का केस दर्ज किया गया था. पुलिस के मुताबिक सपा सांसद आजम खान और पूर्व सीओ आले हसन सहित 6 लोगों पर केस दर्ज किया गया था. पुलिस ने बन्ने और शाकिर की शिकायत पर आजम खान के खिलाफ धारा 452, 427, 448, 389, 395, 504, 506, 323 और 120B के तहत केस दर्ज कर आगे की कार्रवाई करने में जुट गई थी. पुलिस के सूत्र बताते हैं कि आजम खान पर अब तक कुल 65 मुकदमे दर्ज हो चुके हैं.

आजम के करीबी पूर्व CO आले हसन कई मुकदमों में हैं सह-अभियुक्त
बता दें कि आजम खान के खिलाफ दर्ज कई मुकदमों में पूर्व सीओ आले हसन सह-अभियुक्त हैं. इससे पहले पूर्व सीओ सिटी आले हसन खान और मुहम्मद अली जौहर यूनिवर्सिटी के मुख्य सुरक्षा अधिकारी के खिलाफ पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया था. उस मामले में डूंगरपुर के अबरार हुसैन ने गंज थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है कि 6 दिसंबर, 2016 को तत्कालीन सीओ सिटी आले हसन खान, ठेकेदार बरकत अली, दरोगा फिरोज खान और सी एंड डीएस के इंजीनियर परवेज आलम उसके घर में घुस आए और फायरिंग की. इस हमले में वे बाल-बाल बच गए.

घर में घुसकर तोड़-फोड़ और जेवर लूटने के आरोप
आरोप है कि इन सभी ने घर में तोड़-फोड़ की और वहां रखे जेवरात लूट लिए. इतना ही नहीं इसके बाद घर पर बुलडोज़र भी चलवा दिया. पुलिस ने चारों लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है. इससे पहले आजम पर 28 मुकदमे जौहर यूनिवर्सिटी के लिए जमीन कब्जाने के आरोप में अजीम नगर थाने में दर्ज हुए हैं, जबकि 11 मुकदमे गंज थाने में लोगों के घर तोड़ने और लूटपाट करने के आरोप में दर्ज कराए गए हैं. पुलिस अधीक्षक (एसपी) डॉ. अजय पाल शर्मा का कहना है कि घटना पुरानी है. पड़ताल के बाद रिपोर्ट दर्ज की गई है. पूर्व सीओ सिटी आले हसन खान के खिलाफ भी अब तक 65 मुकदमे दर्ज हो चुके हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रामपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 31, 2019, 10:04 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...