मुकदमों के 'आज़म' खान, देश के पहले सांसद जिनपर अब तक 78 केस दर्ज

मौलाना जौहर अली यूनिवर्सिटी (Maulana Jauhar Ali University) के लिए आलियागंज के किसानों की जमीन कब्ज़ा करने के आरोपों में उनके खिलाफ 28 मुकदमे दर्ज हैं. यतीमखाना में भैंस चोरी प्रकरण में 9 मुकदमा दर्ज हो चुका है. शत्रु संपत्ति के मामले में दो मुक़दमे दर्ज हैं.

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 3, 2019, 2:42 PM IST
मुकदमों के 'आज़म' खान, देश के पहले सांसद जिनपर अब तक 78 केस दर्ज
सपा सांसद आजम खान को खिलाफ 78 मुकदमे दर्ज
News18 Uttar Pradesh
Updated: September 3, 2019, 2:42 PM IST
उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के रामपुर (Rampur) से समाजवादी पार्टी के सांसद आज़म खान (Azam Khan) ने अपने नाम एक ऐसा रिकॉर्ड दर्ज करवाया है जिसे वो याद रखना भी मुनासिब नहीं समझेंगे. आज़म खान पर पुलिस ने अब तक 78 मुकदमे दर्ज किए हैं. इसके साथ ही आज़म देश के पहले सांसद बन गए हैं जिनके खिलाफ इतनी संख्या में मुकदमे दर्ज हैं. इनमे से अधिकांश मुकदमे उनके हाल ही में सांसद बनने के बाद दर्ज हुए हैं.

मौलाना जौहर अली यूनिवर्सिटी के लिए आलियागंज के किसानों की जमीन कब्ज़ा करने के आरोपों में उनके खिलाफ 28 मुकदमे दर्ज हैं. यतीमखाना में भैंस चोरी प्रकरण में 9 मुकदमा दर्ज हो चुका है. शत्रु संपत्ति के मामले में दो मुकदमे दर्ज हैं. किताबों की चोरी, शेर की मूर्ति चुराने, 2700 खैर के पेड़ों की चोरी का भी मुकदमा दर्ज है. इसके अलावा बेटे अब्दुल्ला आज़म के दो-दो जन्म प्रमाणपत्र के आरोपों में दो मुकदमे दर्ज हैं.

29 मामलों में आज़म की अग्रिम याचिका हो चुकी है खारिज

28 मुकदमे जौहर यूनिवर्सिटी के लिए जमीन कब्जाने के आरोप में अजीम नगर थाने में दर्ज हुए हैं. जबकि 11 मुकदमे गंज थाने में लोगों के घर तोड़ने और लूटपाट करने के आरोप में दर्ज कराए गए हैं. बता दें कि इससे पहले बुधवार को रामपुर में जमीन कब्जाने के आरोप में दर्ज 28 मुकदमों और किताबें चोरी करने के एक केस में सपा सांसद आजम खान की अग्रिम जमानत की अर्जी को जिला न्यायालय ने खारिज कर दिया.

शत्रु संपत्ति मामले में भी केस दर्ज है

रामपुर से लोकसभा सदस्य आजम खान पर शत्रु संपत्ति को वफ्फ (Wakf) संपत्ति में दर्ज करने और वक्फ संपत्ति को हड़पने का आरोप लगा है. इस मामले में आजम खान, उनकी पत्नी तजीम फातिमा और बेटे अब्दुल्ला आजम के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है. उत्तर प्रदेश शिया सेंट्रल बोर्ड लखनऊ के अध्यक्ष वसीम रिजवी और सुन्नी वफ्फ बोर्ड के अध्यक्ष जुफर फारुखी सहित वफ्फ बोर्ड के अधिकारियों सहित कुल नौ लोगों पर केस दर्ज हुआ है. अल्लामा जमीर नकवी की शिकायत पर अजीमनगर थाना में मुकदमा दर्ज किया गया है. धारा 420, 467, 468, 471, 447, 409, 201, 120बी और सार्वजनिक संपत्ति नुकसान निवारण अधिनियम की धारा 3 के अंतर्गत केस दर्ज किए गए हैं.

किताबों और शेरोन की मूर्तियों की चोरी का भी आरोप
Loading...

यूनिवर्सिटी की मुमताज सेंट्रल लाइब्रेरी से चोरी की पुरानी और महंगी किताबें बरामद की गई थीं. कार्रवाई के दौरान वहां से पुलिस को एक और चीज हाथ लग गई जिसके बारे में पुलिस को अंदाजा भी नहीं था. दरअसल यूनिवर्सिटी में छापेमारी के दौरान रियासतकालीन रामपुर क्लब से चुराई गई शेरों की मूर्तियां रखी मिलीं. यह मूर्तियां सपा के कार्यकाल में चोरी हुई थीं. पीडब्लूडी ने शेरों की मूर्तियां होने की पुष्टि की है. इस मामले में बीते 16 जून को थाना गंज में एक एफआईआर दर्ज कराई गई थी. यह एफआईआर मदरसा आलिया के प्रिंसिपल जुबेद खां ने दर्ज कराई थी.

जमीन हड़पने के मामलों में आजम को हो सकती है 10 साल की सजा

बता दें जमीन हड़पने के मामलों में अगर आजम खान दोषी पाए जाते हैं तो उन्हें 10 साल तक की सजा हो सकती है. क्योंकि पुलिस ने मुकदमा दर्ज होने के बाद आईपीसी की धारा 389 को भी बढ़ा दिया है. यह गैर जमानती धारा है और इस धारा में 10 साल तक की सजा का भी प्रवाधान है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रामपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 3, 2019, 1:03 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...