तो क्या अब 'हिस्ट्रीशीटर' घोषित होंगे आजम खान?

रामपुर (Rampur) के डीएम आंजनेय कुमार सिंह ने कहा है कि आजम खान (Azam Khan) के खिलाफ दर्ज अधिकतर मुकदमे आपराधिक हैं, जिनमें चोरी के साथ ही जमीन पर अवैध कब्जे के मामले शामिल हैं, लिहाजा हमने उनकी हिस्ट्रीशीट खोलना तय किया है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 13, 2019, 5:38 PM IST
तो क्या अब 'हिस्ट्रीशीटर' घोषित होंगे आजम खान?
सपा सांसद आजम खान को हिस्ट्रीशीटर घोषित करने की चल रही है तैयारी!
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 13, 2019, 5:38 PM IST
रामपुर से समाजवादी पार्टी (Samajwadi Part- SP) के सांसद आजम खान (Azam Khan) की मुश्किलें बढ़ती दिख रही हैं. दरअसल, यूपी पुलिस अब आजम खान को हिस्ट्रीशीटर (history-sheeter) घोषित करने की तैयारी कर रही है. बता दें आजम खान के खिलाफ आईपीसी और सीआरपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत करीब 72 केस चल रहे हैं.

न्यूज एजेंसी आईएएनएस को दिए बयान में रामपुर के डीएम आंजनेय कुमार सिंह ने कहा है कि आजम खान के खिलाफ दर्ज अधिकतर मुकदमे आपराधिक हैं, जिनमें चोरी के साथ ही जमीन पर अवैध कब्जे के मामले शामिल हैं, लिहाजा हमने उनकी हिस्ट्रीशीट खोलना तय किया है.

उन्होंने बताया कि इन 72 केसों में पुलिस ने 15 केसों में चार्जशीट दाखिल की है. वहीं बाकी केस में जांच जारी है. हाल ही में सपा सांसद के खिलाफ 8 अगस्त को एक और मुकदमा दर्ज किया गया है. इसमें उनके खिलाफ आरोप लगा है कि उन्होंने ‘शत्रु संपत्ति’ पर कब्जा किया और उसे जौहर यूनिवर्सिर्टी कैंपस में शामिल किया. आजम खान के खिलाफ कई किसानों ने भी जमीन हड़पने का केस दायर किया है.

अफसरों को दी धमकी

इससे पहले सोमवार को सांसद आजम खान करीब एक महीने बाद अपने संसदीय क्षेत्र पहुंचे. यहां पर उन्होंने अपने समर्थकों के साथ ईद-उल-जुहा की नमाज अता की. इसके बाद जिला प्रशासन द्वारा की जा रही कार्रवाई और अपने ऊपर दर्ज मुकदमों पर आजम खान जमकर भड़के. साथ ही अफसरों को धमकाते हुए उन्होंने कहा कि हमेशा एक सा वक्त नहीं रहता.

हाल फिलहाल की घटनाओं पर आजम खान ने कहा कि हमारे ऊपर कोई मुकदमा नही है. सारे मुकदमे यूनिवर्सिटी और बच्चों के स्कूलों के ऊपर हैं. सपा नेता ने तल्ख अंदाज में कहा कि आपके हाथों में झाड़ू देना है...आपसे गुलामी कराना है. आपके हाथों में कलम कौन आने देगा? आजम खान ने कहा कि गैरों की शिकायत क्यों करते हो, अपनों से सवाल किया करो.

'यूनिवर्सिटी का गेट गिरा दिया, डाका डाला'
Loading...

आजम खान ने कहा कि अदालत के फैसले नहीं सुना जा रहा है. यह नहीं देख रहा कि हाईकोर्ट डीएम और एसपी को नोटिस जारी कर रहा है. भड़के आजम खान ने आगे कहा कि यूनिवर्सिटी का गेट गिरा दिया गया, डाका डाला गया. आपको नहीं पता चलेगा कि हाईकोर्ट और अदालतें क्या कह रही हैं?

अफसरों से बोले- वक्त एक सा नहीं रहता
आजम खान ने योगी सरकार पर भी हमला बोला. अफसरों पर भड़कते हुए आजम खान ने धमकी भरे लहजे में कहा कि हमेशा एक सा वक्त नहीं रहेगा. सुप्रीम कोर्ट ने 40 रूलिंग ऐसी दी हैं, जिनेमें तीन साल के बाद किसी को यह कहने का हक नहीं कि किसी का कब्जा है. उन्होंने कहा कि सैकड़ों एकड़ जमीन खरीदने वाला ट्रस्ट पौने चार बीघा जमीन की बेईमानी क्यों करेगा?

ये भी पढ़ें:

आजम खान की बढ़ी मुश्किलें, रामपुर के SP बोले- गिरफ्तारी संभव

अफसरों से बोले आजम खान- वक्त एक सा नहीं रहता

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रामपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 13, 2019, 4:28 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...