योगी की चिट्ठी पर आजम बोले, बलात्कार के मुकदमे भी वापस लें मुख्यमंत्री योगी

सपा नेता आज़म खान ने कहा है कि योगी सरकार को 302 के आरोपियों के साथ-साथ, रेप आरोपियों के मुकदमें भी ले लेने चाहिए. उन्होंने कहा कि सूबे की योगी सरकार लोगों से धोखा कर रही है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: April 19, 2018, 7:16 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: April 19, 2018, 7:16 PM IST
नाबालिग से रेप पर फांसी के प्रावधान को लेकर केंद्र सरकार को चिट्ठी लिखने के सीएम योगी के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए सपा नेता आज़म खान ने कहा है कि योगी सरकार को 302 के आरोपियों के साथ-साथ, रेप आरोपियों के मुकदमें भी ले लेने चाहिए. उन्होंने कहा कि सूबे की योगी सरकार लोगों से धोखा कर रही है.

बीजेपी नेता बुक्कल नबाव द्वारा मंदिर में पूजा अर्चना करने पर जारी फरमान पर जबाव देते हुए आज़म खान ने कहा कि कौन मुसलमान है कौन नहीं है, यह तय करने वाले लोग कौन है. उन्होंने कहा कि बुक्कल नबाव को इस्लाम से बाहर करने के लिए फरमान जारी करने वाले लोग ही इस्लाम का मजाक बनवा रहे हैं.

वहीं, मायावती के शासन की प्रशंसा कर सुर्खियों में आए योगी सरकार में मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य से अनभिज्ञता जताते हुए आज़म ने कहा कि उन्हें नहीं मालूम है कि स्वामी प्रसाद मौर्य कौन हैं. हालांकि बाद में स्वामी प्रसाद मौर्य को सत्ताभोगी करार देत हुए उन्होंने कहा कि सत्ता के लिए ऐसे लोग कुछ भी करेंगे.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर