आरोप: सपा सांसद आज़म खान की बुजुर्ग बड़ी बहन को जबरन थाने ले गई पुलिस

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 30, 2019, 5:59 PM IST
आरोप: सपा सांसद आज़म खान की बुजुर्ग बड़ी बहन को जबरन थाने ले गई पुलिस
पुलिस कार्रवाई के बाद आजम खान की बहन निखत अफलाक के घर पर जमा भीड़.

रामपुर (Rampur) में सपा सांसद आजम खान (Azam Khan) की बड़ी बहन निखत अफलाक को पुलिस द्वारा कथित तौर पर जबरन थाने ले जाने की बात सामने आई है. मामले में एसपी रामपुर डॉ अजय पाल शर्मा ने कहा कि जौहर ट्रस्ट के पेमेंट और रिकॉर्ड की जानकारी के लिए उनके कोषाध्यक्ष (निखत) से जानकारी की जा रही है.

  • Share this:
रामपुर (Rampur) में समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के सांसद आजम खान (Azam Khan) की बहन निखत अफलाक को पुलिस द्वारा कथित तौर पर जबरन थाने ले जाने की बात सामने आई है. थाना गंज पुलिस पर ये आरोप लगा है. मामले में बहन नसरीन ने बताया कि निखत अपने घर में खाना खा रही थीं. तभी दो महिला पुलिस वाली आईं और उन्हें बुर्का भी नहीं पहनने दिया और अपने साथ ले गईं. उधर मामले में एसपी रामपुर डॉ अजय पाल शर्मा ने कहा कि कई मुक़दमे किसानों के द्वारा दर्ज कराए गए हैं. जौहर ट्रस्ट के पेमेंट और रिकॉर्ड की जानकारी के लिए उनके कोषाध्यक्ष (निखत) से जानकारी की जा रही है. एसपी ने कहा कि मानवाधिकार के नियमों का पालन किया जा रहा है, सिर्फ जानकारी ली जा रही है.

वहीं मामले में बहन नसरीन ने बताया कि वह भी उनकी बहन हैं. खाना उनका नीचे गिरा पड़ा है. कुछ भी नहीं बताया कि किस जुर्म की सजा है? उन्होंने कहा कि हम पूछना चाहते हैं कि ऐसा क्यों किया जा रहा है? निखत रिटायर्ड टीचर हैं, न उनके घर में पति है न बच्चा है, 70 से ज्यादा की उम्र है. ऐसी उम्र में पुलिस इस तरह से कार्रवाई कर रही है. उधर मामले में पुलिस की तरफ से कोई जवाब नहीं आया है. मामला क्या है, इसकी पुष्टि नहीं हो पा रही है.

Azam wife
आजम खान की पत्नी और राज्यसभा सांसद तजीम फातिमा ने पुलिस कार्रवाई पर उठाए सवाल.


आजम की पत्नी ने पूछा- पुलिस की यही कार्यप्रणाली है?

उधर मामले में समाजवादी पार्टी से राज्यसभा सांसद और आजम खान की पत्नी तजीम फातिमा मीडिया के सामने आईं. उन्होंने कहा कि आजम खान की बड़ी बहन निखत को नमाज से पकड़कर घसीटते हुए पुलिस ले गई. उन्होंने कहा कि क्या ये लोकतांत्रिक तरीका है? यही पुलिस की कार्यप्रणाली है कि अकेली औरत को घर से घसीटकर इस तरह से ले जाया जाए. अगर पुलिस को कुछ पूछना ही है तो सीधे कह देती. तजीम फातिमा ने बताया कि यह आजम खान की बड़ी बहन हैं और जिस तरह जौहर ट्रस्ट की मेंबर वह हैं, वैसे ही निखत भी हैं. जौहर ट्रस्ट के तो 7 सदस्य हैं. पुलिस ने अभी तक बताया ही नहीं कि क्यों उठाया गया है. तजीम फातिमा ने कहा कि पुलिस कार्रवाई के  नाम पर डरा-धमका रही है.

जौहर ट्रस्ट के संबंध में है पूछताछ, मानवाधिकार नियमों का किया जा रहा पालन: एसपी

उधर मामले में एसपी रामपुर डॉ अजय पाल शर्मा ने कहा कि कई मुक़दमे किसानों के द्वारा दर्ज कराए गए हैं, ये किसानों की जमीन कब्जा कर जौहर यूनिवर्सिटी में मिलाने के मामले हैं. इन मामलों की जांचें चल रही हैं. जौहर ट्रस्ट के पेमेंट और रिकॉर्ड की जानकारी के लिए उनके कोषाध्यक्ष (निखत) से जानकारी की जा रही है. ट्रस्ट के अकाउंट की जानकारी लेकर आगे कार्यवाही की जाएगी. एसपी ने कहा कि मानवाधिकार के नियमों का पालन किया जा रहा है, सिर्फ जानकारी ली जा रही है.
Loading...

(रिपोर्ट: विशाल सक्सेना)

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रामपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 30, 2019, 4:43 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...