लाइव टीवी

UP में 7 सीटें छोड़ने पर आजम खान का पलटवार, कहा- हमें कांग्रेस के पक्ष की जरूरत नहीं

News18 Uttar Pradesh
Updated: March 19, 2019, 8:06 AM IST

सपा नेता आजम खान ने चौकीदार के सवाल पर सवालिया अंदाज में जवाब देते हुए जवाब मांगा. आजम खान ने कहा कि देखिए इन जुम्लों नारों से बात नहीं बनने वाली है. चुनाव है यह बताना पड़ेगा कि 20 लाख रूपया हर व्यक्ति के घर तक पहुंचा या नहीं.

  • Share this:
कांग्रेस द्वारा सात सीटें छोड़ देने पर समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान ने पलटवार किया है. आजम खान ने कहा कि यूपी में हमें कांग्रेस के पक्ष की जरूरत नहीं है. रामपुर में पत्रकारों से बात करते हुए आजम खान ने कहा कि उनसे किसने यह कहा था कि आप ऐसा करिए. बेवजह की मुफ्त की इनायत की क्या वजह है और आप देख चुके हैं. विधानसभा का चुनाव साथ मिलकर लड़ा था. तो हम तो डूबे थे सनम तुमको भी ले डूबे, यह हमारे लिए हुआ था.

आजम खान ने कहा कि कांग्रेस अपना चुनाव लड़ें, बहादुरी और मजबूती से लड़ें. बल्कि यह कहे कि रायबरेली और अमेठी में भी उसे सपा की इनायत नहीं चाहिए. हम सीना ठोंककर लड़ेंगे और उसी तरह लड़ेंगे जैसे हमने मध्यप्रदेश और राजस्थान में लड़ा. किसी को एडजस्ट नहीं किया. न एक सीट कांग्रेस को दी न ही एक सीट बसपा को दी. ऐसी चुनौती कुबूल करें.

शंकर सिंह वाघेला के यहां हुई चोरी पर आज़म खां ने कहा कि वो हमारे मित्र थे. पहले हमारी पार्टी में भी थे. फिर फासिस्टों के साथ चले गए. उनके यहां चोरी होने का मुझे दुख है. बल्कि इस बात का दुख नहीं है बल्कि इस बात की हैरत है कि पूरे देश के लिए संदेश है कि चौकीदार बहुत देखभाल के रखें क्योंकि खबर यह है कि उनके घर चौकीदार ने चोरी कर ली. चौकीदार देखभाल कर कराएं और अगर चौकीदार भरोसे का न हो तो खुद ही सीटी डंडा लेकर गेट पर बैठें. मालिक का काम भी खुद करें और चौकीदार भी खुद करें.

सपा नेता आजम खान ने चौकीदार के सवाल पर सवालिया अंदाज में जवाब देते हुए जवाब मांगा. आजम खान ने कहा कि देखिए इन जुम्लों नारों से बात नहीं बनने वाली है. चुनाव है यह बताना पड़ेगा कि 20 लाख रूपया हर व्यक्ति के घर तक पहुंचा या नहीं. हर साल दो करोड़ नौकरियां देने के वायदे में 10 करोड़ नौकरियां मिली कि नहीं? जीएसटी से लोगों को कितना लाभ हुआ? इसका आंकड़ा बताना पड़ेगा.

आजम खान ने सवाल करते हुए पूछा, "आरबीआई के डायरेक्टर ने ऐसा क्यों कहा कि नोटबंदी बगैर आरबीआई की सहमति बगैर इजाजत के कर दी गई. इसकी क्या वजह थी, यह बताना पड़ेगा." आजम खान ने कहा कि पीएम को बताना होगा कि गंगा साफ क्यों नहीं हुई. राममंदिर क्यों नहीं बना. बाबरी मस्जिद तोड़ दी गई यह ब़ड़ा गुनाह था. एक इबादतगाह तोड़ी गई लेकिन दूसरी इबादतगाह क्यों नहीं बनी. यह जानना जरूरी है, यह बताना जरूरी है क्योंकि इस मुददे पर सरकार आई थी. आज यह मुद्दा कहां चला गया.

(रिपोर्ट- विशाल सक्सेना)

ये भी पढ़ें--
Loading...

Analysis: क्या 'गंगा की बेटी' बनकर प्रियंका गांधी लगा पाएंगी कांग्रेस की नैया पार

प्रियंका के बयान पर BJP का पलटवार, कहा- जनता समझती है देश संकट में है या पार्टी

टिकट बदलने पर छलका गिरिराज का दर्द, '200 से ज्यादा बार की पार्टी आलाकमान से बात'

ड्राई फ्रूट बेच रहे कश्मीरी युवकों को भगवाधारी लोगों ने डंडे से पीटा, दी गालियां


इंदौर से सलमान खान को चुनाव क्यों लड़वाना चाहती है कांग्रेस, जानें- इसके पीछे के 5 कारण


लोकसभा चुनाव 2019: मुलायम की बहू डिंपल-अपर्णा के नाम है ये अनचाहा रिकॉर्ड


लोकसभा चुनाव से पहले घर वापसी कर सकते हैं लालू यादव


भीम आर्मी चीफ से मुलाकात के बाद बोलीं प्रियंका, 'चंद्रशेखर की हर लड़ाई में उनके साथ हूं'



एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रामपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 19, 2019, 8:06 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...