होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /रामपुर के MP आजम खान के करीबी पर कसा प्रशासन का शिकंजा, चल संपत्ति जब्त

रामपुर के MP आजम खान के करीबी पर कसा प्रशासन का शिकंजा, चल संपत्ति जब्त

MP आजम खान के करीबी पर कसा रामपुर प्रशासन का शिकंजा (file photo)

MP आजम खान के करीबी पर कसा रामपुर प्रशासन का शिकंजा (file photo)

दरअसल सपा शासनकाल (Samajwadi Party Government) में पुलिस लाइन के पास स्थित डूंगरपुर बस्ती में आसरा कालोनी का निर्माण कर ...अधिक पढ़ें

    विशाल सक्सेना/ रामपुर. सीतापुर जेल (Sitapur Jail) में परिवार सहित बंद रामपुर से सांसद आजम खान (Azam Khan) के करीबी पूर्व नगरपालिका चेयरमैन अजहर खां (Azhar Khan) पर रामपुर जिला प्रशासन ने शिकंजा कसा है. रविवार को अदालत ने संपत्ति को कुर्क करने का आदेश मिलने के बाद डीएम ने अजहर खां की चल संपत्ति को कुर्क की कार्रवाई की है. बता दें कि डूंगरपुर बस्ती में मकान तोड़ने और लूटपाट करने के मुकदमों में फरार चल रहे पूर्व पालिकाध्यक्ष अजहर खां समेत चार सपा नेताओं के खिलाफ अदालत ने कुर्की नोटिस जारी किया था.

    गंज कोतवाली पुलिस ने इन नोटिस को आरोपितों के घरों पर चस्पा कर दिया था. दरअसल सपा शासनकाल में पुलिस लाइन के पास स्थित डूंगरपुर बस्ती में आसरा कालोनी का निर्माण कराया गया था. तब सांसद आजम खां कैबिनेट मंत्री थे. आसरा कालोनी जहां बनाई गई, वहां पहले से कई लोगों के मकान बने हुए थे. इन मकानों को तोड़ दिया था. जिनके मकान तोड़े गए, उन लोगों ने गंज कोतवाली में 10 मुकदमे दर्ज कराए थे.

    ये भी पढे़ं- केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी बोले- Corona की वजह से बिगड़ी देश की अर्थव्यवस्था

    इन मुकदमों में पूर्व पालिकाध्यक्ष अजहर खां, रानू खान, फिरोज और बरकत अली ठेकेदार फरार चल रहे हैं. इनके गैर जमानती वारंट भी जारी हो चुके हैं. क्षेत्राधिकारी (CO) धर्म सिंह मारछाल ने बताया कि पुलिस अधीक्षक रामपुर के निर्देशन में अपराधियों को पकड़ने का अभियान चल रहा है. जिसके तहत आज पूर्व नगरपालिका चेयरमैन अजहर खां जो आजम खान के करीबी है, इनके विरुद्ध कुर्की की कार्यवाही की गई है. यह अभियुक्त लगातार फरार चल रहा था. न्यायालय से कुर्की का आदेश प्राप्त हुआ था, जिसके बाद कुर्की की कार्यवाही की गई है. उन्होंने बताया कि इनके विरुद्ध जिले में 16 मुकदमे दर्ज हैं.

    Tags: Akhilesh yadav, Azam Khan, CM Yogi, Rampur news, Samajwadi party, Sitapur news, UP police, Yogi government

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें