रामपुर: समोसे के बाद COVID-19 कंट्रोल रूम में कॉल कर की गई पान की डिमांड, नाली साफ करने की मिली सजा
Rampur News in Hindi

रामपुर: समोसे के बाद COVID-19 कंट्रोल रूम में कॉल कर की गई पान की डिमांड, नाली साफ करने की मिली सजा
समोसे की डिमांड करने वाले शख्स से करवाई गई नाली साफ

UP Lockdown: रामपुर में एक बाप-बेटे ने कंट्रोल रूम में फोन करके पान भेजने की मांग की. कॉल करने वाले ने बताया कि उन्हें बिना पान के रहा नहीं जा रहा है.

  • Share this:
रामपुर. कोरोनावायरस (Coronavirus) के चलते इन दिनों चल रही गंभीर परिस्थितियों के बीच भी लोग मटरगश्ती और तफरीह से बाज नहीं आ रहे. रविवार की शाम रामपुर में ऐसा ही मामला सामने आया, जिसमें एक व्यक्ति द्वारा जिला प्रशासन के कंट्रोल रूम में फोन करके समोसे और चटनी की मांग की गई. रामपुर में यह सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है. समोसे के बाद अब एक शख्स ने कंट्रोल रूम (Control Room) में फोन करके पान भेजने के लिए कह दिया.

करवाई जा रही नाली साफ़

रामपुर के कोतवाली थाना क्षेत्र के मोहल्ला कूचा फरगना में एक बाप-बेटे ने कंट्रोल रूम में फोन करके पान भेजने की मांग की. कॉल करने वाले ने बताया कि उन्हें बिना पान के रहा नहीं जा रहा है. इस मांग से जिला प्रशासन के साथ-साथ पुलिस प्रशासन को भी काफी हैरानी हुई. कोतवाली थाने के पुलिसकर्मियों को भेजकर को पान मांगने वाले व्यक्ति को चेतावनी दी. साथ ही अब दोनों से नाली भी साफ करवाई जा रही है.



पान से पहले मांगे गए थे समोसे
बता दें कि रविवार को रामपुर के ही मोहल्ला खास से एक व्यक्ति ने समोसा और चटनी की मांग की थी, जिसके बाद उसके यहां पहुंचकर पुलिस और प्रशासन के अफसरों ने उस व्यक्ति को कड़ी चेतावनी दी. साथ ही सामाजिक रूप से शर्मिंदा करने के लिए उससे नाली भी साफ करवाई गई.

ऐसी कॉल्स को किया जा रहा ब्लॉक
रामपुर के पुलिस कप्तान शगुन गौतम ने बताया कि इस गंभीर घड़ी में भी लोग अपनी शरारतों से बाज नहीं आ रहे हैं. उन्होंने बताया कि इस तरीके की कॉल्स उनके लिए काफी परेशानी का सबब बन गए हैं. ऐसे कॉल्स को ब्लॉक किया जा रहा है. शगुन गौतम ने यह भी बताया कि इस तरीके की मांग करने वालों के खिलाफ कोई आपराधिक मामला तो बन नहीं रहा, लिहाजा उन्हें सामाजिक रूप से शर्मिंदा करना ही उन्हें रोकने का एकमात्र तरीका है. उन्होंने यह भी कहा कि इस तरीके की कॉल से इस मुश्किल घड़ी में काम करने में कठिनाई उत्पन्न होती है. लोगों को समझाया जा रहा है कि इस तरीके की कॉल्स में जितना समय बेकार होता है उतने समय में कई जरूरतमंद लोगों को आवश्यक चीजें पहुंचाने में सफलता मिल जाती है.

लोगों ने इसे पिटाई से बेहतर सज़ा बताया
रविवार को समोसा और चटनी मांगने वाले शख्स से जिला प्रशासन की टीम ने रामपुर की नाली साफ करवाई. नाली साफ कराने की तस्वीरें डीएम रामपुर ने ट्वीट भी किया. जिस पर सैकड़ों लोगों ने तत्काल अपनी प्रतिक्रिया दी. प्रतिक्रिया देने वालों में बहुसंख्यक लोगों ने ऐसे लोगों को हिकारत भेजी. ट्विटर पर जहां लोगों ने जिला प्रशासन के इस कदम की सराहना की, वहीं कुछ लोगों ने यह भी सजेस्ट किया कि ऐसे लोगों को मारने से बेहतर सामाजिक रूप से उन्हें शर्मिंदा करना ही ज्यादा आवश्यक है. डीएम रामपुर के इस ट्वीट को 14000 लोगों ने अभी तक लाइक किया है और 4000 से ज्यादा लोगों ने इसे रिट्वीट किया है.

ये भी पढ़ें:

गाजियाबाद: मोहननगर की एक सोसाइटी में कोरोना पॉजिटिव मिले पति और पत्नी

सीएम योगी ने 163 लाख BJP बूथ अध्यक्षों को दिया मंत्र, बोले- कोरोना हारेगा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज