रामपुर कोर्ट का फैसला- सीतापुर जेल में ही रहेंगे आजम और अब्दुल्ला, तजीन के लिए निर्णय ले प्रशासन
Rampur News in Hindi

रामपुर कोर्ट का फैसला- सीतापुर जेल में ही रहेंगे आजम और अब्दुल्ला, तजीन के लिए निर्णय ले प्रशासन
सपा सांसद आजम खान और उनके परिवार को सीतापुर जेल ट्रांसफर करने के मामले में रामपुर कोर्ट ने फैसला सुना दिया है.

रामपुर (Rampur) में एडीजे कोर्ट का कहना है कि आजम खान और उनके बेटे अब्दुल्ला आजम सीतापुर जेल में ही रहेंगे. वहीं आजम की पत्नी तजीन फातमा के जेल ट्रांसफर को लेकर कोर्ट ने कहा कि इस पर प्रशासन को निर्णय लेना है. प्रशासन उन्हें चाहे रामपुर जेल में रखे या सीतापुर जेल में. कोर्ट ने साफ किया कि आगे वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए सुनवाई होगी.

  • Share this:
रामपुर. समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के सांसद आजम खान (Azam Khan), उनकी पत्नी तजीन फातमा (Tazeen Fatma) और बेटे अब्दुल्ला आजम (Abdullah Azam) को रामपुर जेल से सीतापुर शिफ्ट किए जाने के मामले में कोर्ट ने फैसला ले लिया है. एडीजे कोर्ट ने मामले में आजम खान के वकील खलीलुल्लाह की ओर से लगाई गई आपत्ति को खारिज कर दिया है. कोर्ट का कहना है कि आजम खान और उनके बेटे अब्दुल्ला आजम सीतापुर जेल में ही रहेंगे. वहीं आजम की पत्नी तजीन फातमा के जेल ट्रांसफर को लेकर कोर्ट ने कहा कि इस पर प्रशासन को निर्णय लेना है. प्रशासन उन्हें चाहे रामपुर जेल में रखे या सीतापुर जेल में. कोर्ट ने साफ किया कि आगे वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए सुनवाई होगी.

कोर्ट के इस निर्णय के बाद ये तय हो गया है कि आजम खान और उनका बेटा अब्दुल्लाह आजम सीतापुर जेल में ही रहेंगे. उधर आजम खान की पत्नी तजीन फातमा के सीतापुर जेल में रहने के संबंध में प्रशासन निर्णय लेगा. सरकारी वकील राम औतार सैनी ने बताया कि इस संबंध में जमानत को लेकर गुरुवार को सुनवाई होगी.

बता देंण् मामले में आजम खान के वकील खलीलुल्लाह खान ने बताया कि उन्होंने कोर्ट में एप्लीकेशन दाखिल कर कहा था कि आज़म खान और उनके परिवार को बगैर कोर्ट की परमिशन के शिफ्ट कर दिया गया. हमारी एप्लिकेशन का उन्होंने जवाब दिया है, उनके जवाब से कंटेम्प प्रोसिडिंग बन रही है. हमारी मांग है कि मामले में स्पेशल सेकेट्री, डीएम, डीजी जेल लखनऊ और दोनों जेल अधीक्षक (रामपुर और सीतापुर) के खिलाफ अवमानना का केस चलाया जाए. उन्होंने बताया कि कोर्ट ने जेल अधीक्षक से नोटिफिकेशन की हार्ड कॉपी मांगी है. साथ ही कोर्ट ने जेल अधीक्षक को निर्देश दिए हैं कि कल (29 फरवरी) आज़म खान और उनके परिवार को इफेक्टिवली कोर्ट में पेश करें. हालांकि लंच के बाद शासन की तरफ से सरकारी वकील ने भी इस मसले पर अर्जी लगाते हुए बहस के लिए कोर्ट से समय मांगा जिस पर कोर्ट ने उन्हें इस मामले में 3 मार्च का समय सुनवाई के लिए दिया है.



इनपुट: विशाल सक्सेना
ये भी पढ़ें:

यूपी में बदला मौसम का मिज़ाज, लखनऊ समेत कई जिलों में तेज हवाओं के साथ बारिश

पीएम मोदी के बाद सीएम योगी का ऐलान- होली मिलन समारोह में नहीं जाएंगे
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज