Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    रामपुर: धान क्रय केंद्रों पर हो रही थी धांधली की शिकायत, DM ने किसान की भेष में मारा छापा

    किसान की भेष में मंडी पहुंचे जिलाधिकारी आंजनेय कुमार सिंह
    किसान की भेष में मंडी पहुंचे जिलाधिकारी आंजनेय कुमार सिंह

    आंजनेय कुमार सिंह (Anjneyay Kumar Singh) ने कहा कि किसानों की यह शिकायत थी कि उनसे 1100-1400 रुपए प्रति क्विंटल के हिसाब से खरीद हो रही है. इसकी जांच जरुरी थी. इसी को देखने के लिए भेष बदल कर निकला था.

    • Share this:
    रामपुर. धान क्रय केन्द्रों पर मनमानी, धांधली और कम दामों पर खरीद की शिकायत मिलने के बाद जिलाधिकारी रामपुर (DM Rampur) आंजनेय कुमार सिंह (Anjneyay Kumar Singh) ने किसान (Farmer) की भेष में छापा मारा. इस दौरान कई जगह शिकयतें सही पाई गईं. इसके बाद कुछ के खिलाफ एफआईआर तो कुछ के खिलाफ विभागीय कार्रवाई के निर्देश दिए. जिलाधिकारी आंजनेय कुमार सिंह ने बताया धान खरीद शुरू हो चुकी है और हमारे सभी क्रय केंद्र ऑनलाइन हो चुके हैं. सभी केंद्रों पर खरीद भी शुरू हो चुकी है. कुछ शिकायते मंडियों की आ रही थी. किसानों की यह शिकायत थी कि उनसे 1100-1400 रुपए प्रति क्विंटल के हिसाब से खरीद हो रही है. इसकी जांच जरुरी थी. इसी को देखने के लिए भेष बदल कर निकला था.

    DM ने दी चेतावनी

    डीएम ने सख्त लहजे में कहा अगर कोई किसान से कम दामों में खरीद करेगा या उसको बहला-फुसलाकर या जबरदस्ती खरीद करेगा तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. डीएम ने कहा कि हमने तो खरीद केंद्रों पर कार्रवाई की है. मिलक में भी कार्रवाई की है. किसान सीधे खरीद केंद्र पर जाएं और बीच में कोई मीडिएटर न हो इसके लिए एक कमेटी अभी बना रहे हैं. हम हर जगह रोड पर निगरानी रखेंगे कहीं पर भी कोई रास्ते में किसान से खरीद फरोख्त करेगा तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.



    ठेकेदार के खिलाफ FIR के आदेश
    डीएम आंजनेय सिंह ने कहा लोगों की शिकायतों का सच जानना था तो उसके लिए जांच करना ज़रूरी था. इसलिए मैं प्राइवेट गाड़ी से किसान बनकर बिलासपुर मंडी पहुंचा. अगर मैं किसान बनकर नहीं जाता तो न कोई मुझसे बात करता और न कोई मुझसे सौदा करता. मैंने कई किसानों से सौदेबाजी भी की. यह समझना जरूरी था किस तरह से किसानों को ठगा जा रहा है. हमने एक जगह ठेकेदार के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के लिए कहा है. एक केंद्र पर व्यक्ति मौजूद नहीं था, उसके खिलाफ विभागीय कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं. जिलाधिकारी ने सख्त लहजे में साफ तौर से कहा कि मैंने नीचे अपने अधिकारियों को कह दिया है कि आइंदा भी मैं ऐसे ही इंस्पेक्शन करूंगा. इस बार कोई कमी या व्यवस्था खराब मिली तो सीधे तहसील के कर्मचारी के खिलाफ कार्रवाई करूंगा.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज