लाइव टीवी

आजम खान ने SIT में दर्ज कराया बयान, बोले- जिन लोगों ने हम पर सितम कराया वो कल दुखी होंगे

News18 Uttar Pradesh
Updated: October 4, 2019, 7:41 PM IST
आजम खान ने SIT में दर्ज कराया बयान, बोले- जिन लोगों ने हम पर सितम कराया वो कल दुखी होंगे
सपा सांसद आजम खान

इससे पहले मंगलवार को जल निगम घोटाला मामले में आरोपी आज़म खान लखनऊ में एसआईटी के सामने पेश हुए थे. यहां उनसे घंटों पूछताछ की गई. वैसे रामपुर में स्थानीय स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम (एसआईटी) ने पिछले दिनों सपा सांसद आज़म खान को फिर नोटिस जारी किया था.

  • Share this:
रामपुर. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के रामपुर (Rampur) में स्पेशल इंवेस्टिगेशन टीम (SIT) सपा सांसद आजम खान (Azam Khan) के खिलाफ कई मामलों की जांच कर रही है. इसी संबंध में अपना बयान दर्ज कराने आजम खान शुक्रवार को रामपुर में महिला थाने पहुंचे. एसआईटी में बयान दर्ज करने के बाद मीडिया से बातचीत में सपा सांसद आजम खान ने कहा कि जिन लोगों से हम पर सितम कराया जा रहा है, वो आज नहीं तो कल दुखी होंगे. आजम कहते हैं कि जिन अफसरों से हमारी बात हो रही है वो सुलझे और अच्छे अधिकारी है. हमे कोई ऐसा शब्द नहीं कहा, जिससे हमें कोई शिकायत हो.

सपा सांसद ने कहा कि पूछताछ के दौरान काफी लंबा सवाल नामा था. मामला सिर्फ पौने चार बीघा का है.
इतने बड़े परिसर में पौने चार बीघा का कौन मालिक है. उन्होंने कहा कि हमारे ऊपर मुर्गी चोरी, भैंस चोरी, पेड़ चोरी के मुक़दमे दर्ज है, यही तक हमें भू माफिया घोषित कर दिया गया. कोर्ट से हमे अरेस्ट स्टे मिला. आजम खान ने कहा कि उच्च न्यायालय ने हमारे साथ इंसाफ किया और मुझे न्यायालय पर पूरा भरोसा हैं.



इस दौरान आजम खान के साथ उनके पुत्र और सपा विधायक अब्दुल्ला आजम भी मौजूद थे. बता दें इससे पहले 2 अक्टूबर को एसआईटी के समक्ष पेश हुए थे. उस दिन उनके साथ उनकी पत्नी और राज्यसभा प्रत्याशी तजीन फातमा और बेटे अब्दुल्ला आजम भी मौजूद थे. एसआईटी ने कई घंटे उनसे पूछताछ की और बयान दर्ज किए थे.

इससे पहले मंगलवार को जल निगम घोटाला मामले में आरोपी आज़म खान लखनऊ में एसआईटी के सामने पेश हुए थे. यहां उनसे घंटों पूछताछ की गई. वैसे रामपुर में स्थानीय स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम (एसआईटी) ने पिछले दिनों सपा सांसद आज़म खान को फिर नोटिस जारी किया था. दरअसल आज़म खान, जौहर यूनिवर्सिटी (Mohammad Ali Jauhar University) के चांसलर हैं और किसानों की जमीन कब्जा करने के मामले में एसआईटी (SIT) को उनका बयान दर्ज करना है. इससे पहले एसआईटी ने 25 सितंबर को आज़म खान को तलब किया था, लेकिन तब वो नहीं पहुंचे थे.

80 से ज्यादा मुकदमों में बनाए गए हैं आरोपी
Loading...

आपको बता दें कि सांसद बनने के बाद से ही आज़म खान पर 84 से ज्यादा मुकदमे दर्ज हो चुके हैं. इसमें जौहर यूनिवर्सिटी की जमीनों से संबंधित 30 मुकदमे भी शामिल हैं. पुलिस के मुताबिक आज़म खान के घर पर किसी के द्वारा नोटिस रिसीव नहीं किए जाने के बाद ये नोटिस चस्पा किए गए हैं.

इनपुट: विशाल सक्सेना

ये भी पढ़ें:

अपने पहले ही सफर में तेजस एक्सप्रेस को झेलना पड़ा विरोध, रेल कर्मियों ने की रोकने की कोशिश

कांग्रेस ने MLA अदिति सिंह को जारी किया व्हिप उल्लंघन का कारण बताओ नोटिस

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रामपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 4, 2019, 6:41 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...