Home /News /uttar-pradesh /

रामपुर: CAA को लेकर लोगों के बीच पहुंचे नकवी, बोले- मुसलमानों की नागरिकता को खतरा नहीं

रामपुर: CAA को लेकर लोगों के बीच पहुंचे नकवी, बोले- मुसलमानों की नागरिकता को खतरा नहीं

CAA के लिए रामपुर में केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने बांटे पर्चे.

CAA के लिए रामपुर में केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने बांटे पर्चे.

भाजपा (BJP) ने नागरिकता कानून को समझाने के लिए जन जागरण अभियान की शुरुआत की है. इसी सिलसिले में आज केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी (Union Minister Mukhtar Abbas Naqvi) रामपुर पहुंचे और उन्‍होंने लोगों को इसके बारे में बताया.

रामपुर. भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) ने नागरिकता कानून को समझाने के लिए जन जागरण अभियान की शुरुआत की है. इसी अभियान के अंतर्गत आज केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी (Union Minister Mukhtar Abbas Naqvi) रामपुर पहुंचे जहां कार्यकर्ताओं ने उनका जोरदार स्वागत किया. जबकि इस दौरान नकवी ने घर-घर जाकर लोगों को इस कानून के बारे में बताया. यही नहीं, उन्‍होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी इस देश में नागरिकता संशोधन कानून के प्रति समाज के सभी वर्गों को जागरूक करने के लिए अभियान के माध्यम से घर-घर जा रही है. यकीनन कुछ लोग सीएए के कोटा से वोट की लूट करने की कोशिश कर रहे हैं. वह शुद्ध रूप से दिवालिया और कंगाल हो चुके हैं.

कांग्रेस ने खड़ा किया भ्रम का भूत
नकवी ने कहा कि कांग्रेस और उनके कुछ साथियों की विघटनकारी सोच का नतीजा है कि सीएए जैसे मुद्दे पर पर भ्रम और भय का भूत खड़ा करके वोटों के लोटे को भरने का प्रयास हो रहा है. जबकि सीएए के बारे में प्रधानमंत्री मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के साथ पूरी पार्टी ने कहा कि यह किसी भारतीय नागरिक के लिए नहीं है. आज हमें अपेक्षा थी कि सभी राजनीतिक दल मजलूम के साथ खड़े होंगे, लेकिन वे पीड़ित के बजाए जालिम के साथ खड़े हो रहे हैं.

मुसलमानों की नागरिकता को कभी कोई खतरा नहीं
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि हम देश के सभी लोगों को इस बात का यकीन दिलाना चाहते हैं विशेष तौर पर मुसलमानों को यह देश आपका है. भारत आपका है. आप की धरती है और आपने इसके निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है. आप की नागरिकता को ना कभी खतरा था, ना कभी खतरा है और ना कभी खतरा होगा. जो सरकार जो प्रधानमंत्री गरीबों-कमजोर के साथ अल्पसंख्यक को फ्री मकान दे रही है, घरों तक बिजली और सड़क पहुंचा रही है. रोजगार के मौके दे रही है. क्या कभी वो सरकार समाज के किसी हिस्से के बारे में सोच भी सकती है कि वह बेघर हो जाए या उनकी जिंदगी अंधेरे में हो जाए. यह शुद्ध रूप से बेबुनियाद और भय का भूत खड़ा करने का प्रयास है. बार-बार मैं इसीलिए कहता हूं कि छूट का झाड़ सच के पहाड़ के नीचे खत्म हो जाएगा.  इसीलिए आज हम और हमारे पार्टी के लोग अलग-अलग स्थानों पर आज जनसंपर्क कर रहे हैं और नागरिकता कानून के बारे में लोगों को बता रहे हैं.

कांग्रेस-सपा और बसपा ने लोगों को गुमराह करने का ठेका ले रखा है
नक़वी ने कहा कि कांग्रेस, समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी, फला पार्टी, ढिमाका पार्टी एक लंबी श्रृंखला है गुमराही गैंग की. उसने सुनियोजित प्रयास के माध्यम से लोगों को गुमराह करने का ठेका ले रखा है और इस गुमराही गैंग को सुपारी कहां से मिली यह पता नहीं है, लेकिन जनता के विश्वास के स्रोतों से गुमराही गैंग की सुपारी ध्वस्त हो गई. यह मैं आपको यकीन दिलाता हूं कि यह लोकतंत्र है और लोकतंत्र में एक वर्ग विशेष में कोई गलतफहमी है तो हम उसे दूर करेंगे.

 

पाकिस्तान, बांग्‍लादेश और अफगानिस्तान में मुसलमान अल्पसंख्यक नहीं
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान में मुसलमान अल्पसंख्यक नहीं है, जैसे यहां हिंदू अल्पसंख्यक नहीं है. वहां पीड़ित और प्रताड़ित लोग हैं जो चाहते हैं कि एक सम्मान का जीवन मिल सके. साथ ही मंत्री ने दावा किया कि एक भी भारत का मुसलमान यह नहीं कह सकता, उसने पीड़ित और प्रताड़ित होकर पाकिस्तान की नागरिकता हासिल करने का वीजा अप्लाई कर दिया है, लेकिन वहां से हजारों लोग भारत आना चाहते हैं. पिछले 5 सालों में हमने 5500 लोगों को नागरिकता दी है, उसमें पाकिस्तान के ज्यादातर लोग हैं, लेकिन यह समय-समय पर सरकार संवेदनशीलता के साथ सरकार जो है मानवीय मूल्य के आधार पर समय-समय पर फैसले करती रही है.

 

ये भी पढ़ें-

हिस्ट्रीशीटर को पकड़ने गई पुलिस को लोगों ने अंधाधुंध फायरिंग कर दौड़ाया, फिर...

 

थाना बेचती थी सपा सरकार, कार्यालय में बनती थी डकैती की योजना: बृजेश पाठक

Tags: CAA, Mukhtar abbas naqvi, NPR, Rampur news, Uttar pradesh news, Yogi adityanath

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर