Home /News /uttar-pradesh /

UP Chunav 2022: आजम खान के बेटे अब्दुल्ला जल्द आ सकते हैं जेल से बाहर, कोर्ट ने जारी किया रिहाई परवाना

UP Chunav 2022: आजम खान के बेटे अब्दुल्ला जल्द आ सकते हैं जेल से बाहर, कोर्ट ने जारी किया रिहाई परवाना

एमपी-एमएलए कोर्ट ने अब्दुल्ला आजम की रिहाई का परवाना सीतापुर जेल भेज दिया है.

एमपी-एमएलए कोर्ट ने अब्दुल्ला आजम की रिहाई का परवाना सीतापुर जेल भेज दिया है.

UP Assembly Election 2022: समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के सांसद आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम (Abdullah Azam) के खिलाफ रामपुर जिले के थाना स्वार, गंज, अजीमनगर और सिविल लाइंस में कुल 43 मुकदमे दर्ज है. हालांकि इन सभी मामलों में उनकी जमानत मंजूर हो चुकी है. वहीं मंगलवार को नौ मुकदमों में जमानती दाखिल करने के बाद कोर्ट ने उनकी रिहाई के परवाने जारी कर दिए हैं.

अधिक पढ़ें ...

रामपुर. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022 Dates) की तारीखों के ऐलान के साथ ही रामपुर से बड़ी खबर है. यहां समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के सांसद और कद्दावर नेता आजम खान (Azam Khan News) के बेटे अब्दुल्ला आजम (Abdullah Azam) अब जल्द ही जेल से बाहर आ सकते हैं. एमपी-एमएलए कोर्ट ने उनकी रिहाई का परवाना सीतापुर जेल भेज दिया है. अब्दुल्ला अपने पिता आजम खान के साथ 26 फरवरी 2020 से इसी जेल में बंद हैं.

बता दें कि अब्दुल्ला आजम के खिलाफ रामपुर जिले के थाना स्वार, गंज, अजीमनगर और सिविल लाइंस में कुल 43 मुकदमे दर्ज है. हालांकि इन सभी मामलों में उनकी जमानत मंजूर हो चुकी है. वहीं मंगलवार को नौ मुकदमों में जमानती दाखिल करने के बाद कोर्ट ने उनकी रिहाई के परवाने जारी कर दिए हैं.

ये भी पढ़ें- स्वामी प्रसाद मौर्य के इस्तीफे के बाद डैमेज कंट्रोल में बीजेपी, अब सपा को झटका देने की तैयारी

रामपुर समाजवादी पार्टी का गढ़ माना जाता है. यहां की शहरी विधानसभा सीट से आजम खान नौ बार चुनाव जीत चुके हैं और वर्तमान में रामपुर के सांसद हैं. आजम खां ने वर्ष 2017 में अपने बेटे अब्दुल्ला को स्वार विधानसभा क्षेत्र से पहली बार विधायकी का चुनाव लड़वाया, जिसमें वह भारी मतों से जीत गए.

यूपी विधानसभा चुनाव से जुड़े तमाम बड़े अपडेट्स यहां पढ़ें…

हालांकि उनके धुरविरोधी रहे पूर्व राज्यमंत्री नवाब काजिम अली खां उर्फ नावेद मियां ने चुनाव आयोग से अब्दुल्ला आजम के खिलाफ उम्र को लेकर गलत हलफनामा देने की शिकायत की थी. इस मामले में हाइकोर्ट में भी याचिका दाखिल की गई, जिस पर कोर्ट ने अब्दुल्ला की विधायकी रद्द करते हुए निर्वाचन शून्य घोषित कर दिया था. इसके बाद से अब्दुल्ला आजम सीतापुर जेल में बंद थे.

Tags: Azam Khan, UP chunav, Uttar Pradesh Assembly Elections

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर