Home /News /uttar-pradesh /

up election: आजम के बेटे अब्दुल्लाह का ओवैसी पर हमला, बोले- अपने राज्य में 6 सीट जीतने वाले UP में 100 कैसे जीतेंगे

up election: आजम के बेटे अब्दुल्लाह का ओवैसी पर हमला, बोले- अपने राज्य में 6 सीट जीतने वाले UP में 100 कैसे जीतेंगे

अब्दुल्लाह का असद्दुदीन ओवैसी पर हमला: बोले आजम के लिए संसद में नहीं उठाई आवाज.

अब्दुल्लाह का असद्दुदीन ओवैसी पर हमला: बोले आजम के लिए संसद में नहीं उठाई आवाज.

Uttar Pradesh Assembly Elections: आजम खान के बेटे अब्दुल्लाह आजम ने यूपी में मुसलमानों को अपने साथ जोड़ने निकले असद्दुदीन ओवैसी पर हमला बोला है. अब्दुल्लाह ने कहा कि ओवैसी को आज़म खान की इतनी ही फिक्र थी तो उनके लिए संसद में आवाज क्यों नहीं उठाई. अपने राज्य में 6 सीट्स जीतने वाले ओवैसी यूपी में 100 सीटें कैसे जीतेंगे?

अधिक पढ़ें ...

रामपुर. आजम खान (Azam Khan) के बेटे अब्दुल्लाह आजम (Abdullah Azam) ने यूपी में मुसलमानों को अपने साथ जोड़ने निकले सांसद और एआईएमआईएम के राष्ट्रीय अध्यक्ष असद्दुदीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) पर सीधा हमला बोला है. अब्दुल्लाह ने कहा कि आज़म खान की इतनी ही फिक्र थी तो उनके लिए संसद में आवाज क्यों नहीं उठाई. अपने राज्य में 6 सीट्स जीतने वाले ओवैसी यूपी में 100 सीटें कैसे जीतेंगे?

अब्दुल्लाह आजम आजम ने कहा कि असदुद्दीन ओवैसी कहते हैं कि अखिलेश ने आजम खान की सही पैरवी नहीं की. कोई कुछ कह रहा है तो वो अपनी राय हो सकती है. मदद दो तरीके की होती है. असद्दुदीन ओवैसी ने ज़िक्र हमेशा किया क्या कभी उन्होंने संसद में मुद्दा उठाया कि उनके साथी के साथ ऐसा हो रहा है. ओवैसी के दावे पर उन्होंने कहा कि 100 सीटों पर सरकार तो नहीं बन सकती. सरकार बनते बनते रोकी ज़रूर जा सकती है. जो पार्टी जिस राज्य की है उसके अपने स्टेट में 6 सीटें हैं. वो यूपी में 100 सीट्स कैसे जीतेगी? बिहार में क्या हुआ था लोग नहीं भूले हैं. चुनाव मुद्दों पर रहे तो ज़्यादा बेहतर रहेगा.

उम्मीदवारी की अभी आधिकारिक घोषणा नहीं
आजम खान के बेटे अब्दुल्लाह आजम ने कहा कि पार्टी से उम्मीदवारी की आधिकारिक घोषणा नहीं हुई है. जब तक ऐलान नहीं हो जाता उस पर कुछ नहीं कह सकता. जो आदेश होगा पार्टी का उसका पालन किया जाएगा. ये चुनाव लोगों का सरकार खिलाफ होगा. अब्दुल्लाह ने कहा कि कुछ भी क्राइम करते हैं उसका मोटिव होना चहिए. मेरे वालिद का सियासी क़द है. उसके हिसाब से क्या 2017 में टिकिट मिलता और 22 में नहीं मिलता. सिर्फ विधायक होने के लिए फोर्जरी तो करता नहीं. मेरी डेट ऑफ बर्थ तब भी सही थी आज भी सही है. इसलिए मामला SC में विचाराधीन है.

बहुत नीचे गिरकर हमसे बदला लिया
उन्होंने बीजेपी सरकार पर बदले की सियासत का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि हमसे बदला लिया गया तो बहुत नीचे गिरकर. ज़्यादती भी हुई तो बहुत निचले स्तर की. एक औलाद की हैसियत से ये बुरा दौर था. कोविड की वजह से मुलाक़ात बंद है, जो उन्होंने कहकर भेजा था उसी पर आगे बढ़ रहे हैं.

महंगाई, बेरोजगारी पर जनता जवाब मांगेगी
उन्होंने कहा कि मेरे वालिद कहते हैं कि साबित क़दम रहिए. इंसाफ और बदलाव होगा. कोई चीज हमेशा नहीं रहती है. किसानों की आय दोगुनी होनी थी, क्यों नहीं हुई. कोरोना में बदइंतजामी नहीं भूले. महंगाई, बेरोजगारी पर जनता जवाब मांगेगी. लोग संदेश देने की कोशिश मैं नहीं कर रहा लोग कर रहे हैं. आज़म साहब यहां लोगों के दिलों में मौजूद हैं. वो सीतापुर जेल में रहें, लेकिन यहां उनकी सरपरस्ती हमेशा है.

हैदर अली खान की उम्मीदवारी पर उन्होंने कहा कि 10 मार्च को इस पर बात करेंगे. कोई किसी को भी उम्मीदवार बनाये इससे फ़र्क़ नहीं पड़ता.

क्या मुस्लिमो की अनदेखी कर रहे हैं अखिलेश?

सपा प्रमुख द्वारा मुसलमानों की अनदेखी पर उन्होंने कहा कि ये सब चीज़ों पर डिस्कशन नहीं होना चाहिए. कोविड, किसान, नौजवानों की बेरोजगारी पर बात होनी चाहिए.

क्या आज़म खान चुनाव लड़ेंगे?
आजम खान के चुनाव लड़ने पर उन्होंने कहा कि जैसा पार्टी का आदेश होगा वैसा ही होगा. अभी तक इस पर आधिकारिक कुछ नहीं कहा है. जैसा होगा आपको पता चल जाएगा. उन्होंने कहा कि अमित शाह निजाम की बात करते हैं. लखीमपुर खीरी में किसानो का क्या हुआ, कोविड में क्या हुआ? महंगाई बेरोजगारी पर बात हो.

Tags: Abdullah Azam, Asaduddin owaisi, Azam Khan, Uttar Pradesh Assembly Elections, Uttar pradesh news

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर