लाइव टीवी

Analysis : रामपुर उपचुनाव में जीतकर भी हार जाएंगे आजम खान, ये है वजह

Anil Rai | News18Hindi
Updated: September 30, 2019, 4:26 PM IST
Analysis : रामपुर उपचुनाव में जीतकर भी हार जाएंगे आजम खान, ये है वजह
आजम खान को भरोसा है कि जिस तरह सरकार लगातार उनके खिलाफ कार्रवाई कर रही है, ऐसे में सहानभूति का फायदा परिवार के ही किसी सदस्य को मिलेगा. (File Photo)

चुनाव (Election) के बाद इस सीट की जो दो तस्वीर उभरती हैं, उसमें बीजेपी (BJP) दोनों हालात में फायदे में है. पहली तस्वीर ये बन सकती है कि बीजेपी रामपुर (Rampur) से चुनाव जीत जाए, इससे बीजेपी आजम खान (Azam Khan) के किले को ध्वस्त करने में कामयाब रहेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 30, 2019, 4:26 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के कद्दावर नेता आजम खान (Azam Khan) ने अपनी परंपरागत रामपुर विधानसभा सीट (Rampur Assembly Seat) बचाने के लिए पूरी ताकत लगा दी है. इस परंपरागत सीट को आजम खान और समाजवादी पार्टी किसी भी कीमत पर जीतना चाहती है. ऐसे में आजम ने इस सीट से अपनी पत्नी तजीन फातिमा (Tazeen Fatma) को मैदान में उतारा है. समाजवादी पार्टी और आजम खान को भरोसा है कि जिस तरह सरकार लगातार उनके खिलाफ कार्रवाई कर रही है, ऐसे में सहानभूति का फायदा परिवार के ही किसी सदस्य को मिलेगा. ऐसे में पार्टी ने आजम खान की पत्नी तजीन फातिमा पर दांव लगा दिया है, लेकिन राजनीतिक समीकरणों पर नजर डालें तो आजम खान भले ही रामपुर विधानसभा सीट जीत जाए लेकिन अंत में उनके हाथ हार ही लगेगी.

हर हाल में आजम का दांव सपा के लिए पड़ेगा उल्टा
आजम खान ने भले ही इस सीट से अपनी साख बचाने के लिए अपनी पत्नी तजीन फातिमा को मैदान में उतारा हो लेकिन उनका ये दांव उल्टा पड़ता नजर आ रहा है. चुनाव के बाद इस सीट की जो दो तस्वीर उभरती हैं, उसमें बीजेपी दोनों हालातों में फायदे में है. पहली तस्वीर ये बन सकती है कि बीजेपी यहां से चुनाव जीत जाए, इससे बीजेपी आजम खान के किले को ध्वस्त करने में कामयाब रहेगी. दूसरी सूरत ये बनती है कि आजम खान की पत्नी तजीन फातिमा इस सीट से चुनाव जीत जाएं, ऐसे में उन्हें राज्यसभा की सीट छोड़नी पड़ेगी.

हर हाल में बीजेपी को फायदा

समाजवादी पार्टी को राज्यसभा में अपने एक-एक सांसद को बचाने के लिए जद्दोजहद करनी पड़ रही है. ऐसे में विधानसभा या राज्यसभा दोनों में कहीं ना कहीं उसका एक सदस्य और कम होना तय है. इसके पहले एसपी के दो राज्यसभा सदस्य बीजेपी के पाले में जा चुके हैं. विधानसभा का जो वर्तमान समीकरण है, उससे साफ है कि तजीन फातिम अगर राज्यसभा से इस्तीफा देती हैं तो ये सीट बीजेपी के खाते में जाएगी और राज्यसभा में बहुमत की तलाश कर रही बीजेपी के लिए ये सौदा फायदे का होगा. क्योंकि फातिमा के कार्यकाल में अभी करीब एक साल से ज्यादा का वक्त बचा है. अगर तजीन फातिमा चुनाव हार जाती हैं तो विधानसभा में बीजेपी का एक सदस्य बढ़ जाएगा.

ये भी पढ़ें--

UP उपचुनाव: सपा ने रामपुर से आजम खान की पत्नी तंजीम फातिमा को बनाया प्रत्याशीआखिर क्यों नामांकन से पहले आजम की पत्नी ने भरा 30 लाख का जुर्माना
आजम खान के किले को बचाने मैदान में उतरीं पत्नी तजीन फातिमा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रामपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 30, 2019, 3:57 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर