Assembly Banner 2021

Rising UP: EVM, लाल टोपी, चाचा श‍िवपाल और आजम खान पर भी खूब बोले अखिलेश, जानें क्‍या-क्‍या कहा


न्‍यूज 18 के कार्यक्रम राइज‍िंग यूपी कार्यक्रम में समाजवादी पार्टी के मुख‍िया अखिलेश यादव

न्‍यूज 18 के कार्यक्रम राइज‍िंग यूपी कार्यक्रम में समाजवादी पार्टी के मुख‍िया अखिलेश यादव

Rising UP: न्‍यूज 18 के कार्यक्रम राइज‍िंग यूपी कार्यक्रम में अखिलेश यादव ने गठबंधन के सवाल में कहा कि मौजूदा समय में उनकी पार्टी का राष्ट्रीय लोक दल व महान दल के साथ गठबंधन है और भी कई छोटे दल हैं, जिनसे बात चल रही है.

  • Share this:
न्‍यूज 18 के कार्यक्रम राइज‍िंग यूपी कार्यक्रम में समाजवादी पार्टी के मुख‍िया अखिलेश यादव ने ईवीएम, लाल टोपी से लेकर आजम खान तक सभी मद्दों पर खुलकर बात की. उन्‍होंने कहा क‍ि आगामी विधानसभा चुनाव में सपा छोटे दलों को लेकर चल रही है. शिवपाल यादव के सवाल पर उन्होंने कहा कि वो चाचा हैं और चाचा ही रहेंगे. दलों के साथ हम समझौता करेंगे, चाचा को छोड़ दीजिए. असदुद्दीन ओवैसी के चुनाव लड़ने पर अखिलेश यादव ने कहा कि जब वह पहली बार जीत कर आए थे तो मेरे बगल में बैठे थे वह अच्छे लगते थे, लेकिन अब पता नहीं किससे मिल गए हैं. अखिलेश यादव ने गठबंधन के सवाल में कहा कि मौजूदा समय में उनकी पार्टी का राष्ट्रीय लोक दल व महान दल के साथ गठबंधन है और भी कई छोटे दल हैं, जिनसे बात चल रही है. कांग्रेस के लिए उन्होंने कहा कि पार्टी बीजेपी के रास्ते पर चल रही है. कांग्रेस को अभी और मेहनत करना चाहिए. उन्होंने कहा कि बड़े दलों के साथ कोई समझौता नहीं होगा. सिद्धांत के हिसाब से कांग्रेस और बीजेपी में कोई फर्क नहीं.

जानें ईवीएम पर क्‍या बोले अख‍िलेश
उपचुनाव में बीजेपी की जीत पर अखिलेश ने कहा कि यह भारतीय जनता पार्टी की जीत नहीं थी, बल्कि सरकारी जीत थी. सरकार ने लोगों को डराया. एम्बुलेंस लगाकर कहा कि वोट दिया तो कोरोना संक्रमित बताकर क्वारंटाइन सेंटर में बंद कर देंगे। अखिलेश यादव ने कहा कि मैं कहता हूं कि चुनाव में अगर मैं ईवीएम से जीत भी जाऊं, लेकिन वोट बैलेट पेपर से पड़ना चाहिए. सरकार क्यों नहीं ऑप्शन दे देती कि जिसे बैलेट से वोट डालना है वो बैलेट से डाले और जिसे ईवीएम से डालना है वो ईवीएम से डाले. इसमें दिक्कत कहां है. अमेरिका जैसे देश में बैलेट पेपर से मतदान होता है.

काले दिलवालों की काली टोपी होती है: अखिलेश
टोपी के मुद्दे पर अखिलेश यादव ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी मुद्दे पर बात नहीं करना चाहती है. लाल टोपी राम मनोहर लोहिया से लेकर नेता जी ने पहना है. लाल कलर इमोशन का रंग है. अखिलेश ने कहा कि काले दिलवालों की काली टोपी होती है. उन्होंने कहा कि विपक्ष की भूमिका सत्ता के बराबर ही है, लेकिन इनको विपक्ष की परवाह नहीं है. अखिलेश यादव ने कहा कि आतंकवादी शब्द बीजेपी का है. ये लोग किसान को आतंकवादी कहते हैं. अगर वो बदलाव चाहते है तो उनको सबसे पहले उस शख्स को बदलना चाहिए जिसको वो आईने में देखते हैं.



समाजवादी पार्टी आज़म खान के साथ हैं: अखिलेश
आजम खान पर बोलते हुए कहा कि बीजेपी ने जानबूझकर उन्हें फंसाया. देश में किसी पर भी इतने मुक़दमे नहीं है. आज़म खान को साजिश के तहत फंसाया गया है. मैं और समाजवादी पार्टी आज़म खान के साथ हैं. वहीं, किसानों के मुद्दों पर उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने बिना विपक्ष की सहमति से तीनों काले कानून पास करवाए. आज किसान सड़कों पर है, लेकिन सरकार कोई ध्यान नहीं दे रही हैं. अखिलेश यादव ने पूछा की किसानों का भुगतान क्यों नहीं हुआ? किसानों का 10 हज़ार करोड़ बकाया है. दुनिया भर के सारे देश अपने किसानों को सपोर्ट करते हैं. भारतीय जनता पार्टी लागत पर दुगुना पैसा देने की बात कह रही थी. उसका क्या हुआ? राकेश टिकैत जी कोई आज के नेता नहीं है. मैंने उनको फोन पर कहा कि आप बहादुर पिता के बहादुर बेटे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज