Saharanpur News: मृतक किसान 10 साल बाद जिंदा वापस लौटा, गांव में खलबली, जानिए पूरा मामला

सहारनपुर में मृत घाेषित किसान के जिंदा लौटने से खलबली मच गई.

Saharanpur News: थाना प्रभारी निरीक्षक रणवीर सिंह का कहना है कि राकेश का मृतक सर्टिफिकेट लगाकर दूसरे भाई ने जमीन हड़पने की कोशिश की है. गन्ने की कटाई को लेकर शिकायत मिली तो दोनों को हिरासत में लिया गया है. मामले की जांच की जा रही है.

  • Share this:
सहारनपुर. उत्तर प्रदेश सहारनपुर (Saharanpur) में बड़गांव में 10 वर्ष पहले मृत किसान जब अपने गांव जिंदा लौटा तो खलबली मच गई. यह मामला तब उजागर हुआ, जब लौटे युवक ने बोए गए गन्ने को काटा तो दूसरे भाई ने इसकी शिकायत थाना पुलिस से कर दी. पुलिस ने दोनों भाइयों को थाने पर बैठा लिया है.

दरअसल नूनाबड़ी निवासी राकेश पुत्र हरद्वारी वर्ष 2011 में काम की तलाश में मुम्बई चला गया था. वापस नहीं लौटा तो दूसरे भाई मुकेश ने 2012 में राकेश को मृत बताते हुए नगर निगम सहारनपुर से मृतक सर्टिफिकेट बनवाकर तहसील देवबंद में लगाया, ताकि राकेश की जमीन को अपने नाम करा सके. बहरहाल जमीन अभी तक नाम नहीं हो सकी. दरअसल इनके पिता हरद्वारी के नाम बड़गांव के नूनाबड़ी गांव में सात बीघा जमीन है. उसने एक मकान रक्खा कालोनी, सहारनपुर में बना रखा है.

पुलिस ने दोनों भाइयों को लिया हिरासत में

पिता की मौत के बाद इनकी मां सहारनपुर शहर में रह रही हैं. अब दस वर्ष बाद मृत दिखाया किसान राकेश गांव आया है. राकेश ने उपजिलाधिकारी देवबंद व जिलाधिकारी को इस फर्जीवाड़े की शिकायत कर भाई मुकेश व फर्जीवाड़े में शामिल लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है. मंगलवार को वह अपनी जमीन में बोये गन्ने की फसल काट रहा था तो दूसरे भाई मुकेश ने थाने में शिकायत की. पुलिस ने मौके पर पहुंच कर दोनों भाइयों को हिरासत में ले कर थाने पर बैठा लिया है.



मामले में थाना प्रभारी निरीक्षक रणवीर सिंह का कहना है कि राकेश का मृतक सर्टिफिकेट लगाकर दूसरे भाई ने जमीन हड़पने की कोशिश की है. गन्ने की कटाई को लेकर शिकायत मिली तो दोनों को हिरासत में लिया गया है. मामले की जांच की जा रही है.