होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Saharanpur: पेट्रोल-डीजल चोरी मामले में मुजफ्फरनगर के DSO गिरफ्तार, ऐसे करता था वसूली

Saharanpur: पेट्रोल-डीजल चोरी मामले में मुजफ्फरनगर के DSO गिरफ्तार, ऐसे करता था वसूली

मुजफ्फरनगर के जिला पूर्ति अधिकारी बीके शुक्ला.

मुजफ्फरनगर के जिला पूर्ति अधिकारी बीके शुक्ला.

Saharanpur News: आरोप है कि सभी ने पिछले 2 सालों में वेस्ट यूपी और उत्तराखंड में 16 घटनाओं को अंजाम देकर करीब 1 लाख लीट ...अधिक पढ़ें

सहारनपुर. सहारनपुर पुलिस (Saharanpur Police) ने सरकारी तेल चोरी मामले में बड़ी करवाई करते हुए मुजफ्फरनगर के जिला पूर्ति अधिकारी (DSO) बीके शुक्ला को गिरफ्तार किया गया है. यह जानकारी एसएसपी सहारनपुर आकाश तोमर ने दी है. उन्होंने बताया कि डीएसओ के खिलाफ 13(1) भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम, 1988 के तहत FIR दर्ज की गई थी. अब उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है. इससे पहले भ्रष्टाचार (Corruption) के मामले में पूर्व जिला आपूर्ति कार्यालय में काम करने वाले श्रीराम कन्नौजिया को गिरफ्तार किया गया था. डीएसओ पर आरोप है कि इंडियन ऑयल की पाइपलाइन से तेल चुराने वाले गिरोह से वह पैसा वसूल रहा था.

दरअसल सहारनपुर पुलिस ने 12 दिसंबर को सरकारी पाइपलाइन से तेल चोरी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह के 8 अभियुक्तों को गिरफ्तार कर किया था. सहारनपुर के एसएसपी आकाश तोमर ने बताया कि पानीपत रिफाइनरी से पाइपलाइनों के राष्ट्रीय सुरक्षा, आर्थिक तंत्र को निशाना बनाने वाले गिरोह के 8 सदस्यों को गिरफ्तार किया गया है. आरोप है कि सभी ने पिछले 2 सालों में वेस्ट यूपी और उत्तराखंड में 16 घटनाओं को अंजाम देकर करीब 1 लाख लीटर डीजल और पेट्रोल चोरी किया था. डीजल-पेट्रोल चोरी के मामले में बड़े डीजल टैंकर, ट्रैक्टर, लग्जरी कारें, ड्रिलिंग उपकरण बरामद करने के साथ पेट्रोल पंप मालिकों को गिरफ्तार किया गया था. आईओसीएल की टीम ने इससे पहले यूपी के डीजीपी और डीजीपी उत्तराखंड के सामने तेल चोरी के मामले को उठाया था.

नरेंद्र मोदी के PM बनने के बाद हिंदू धर्मस्थानों के पुनरुद्धार का स्वप्न पहली बार हुआ साकार : अमित शाह

गिरफ्तार किए आरोपियों ने बताया कि वह चोरी का पेट्रोल-डीजल भोपा के रहने वाले उदित कुमार के पेट्रोल पंप पर बेचते थे उन्होंने बताया कि वह मुजफ्फनगर के डीएसओ के ड्राइवर श्रीराम कन्नौजिया को 30 हजार रुपये महीना देते थे. इसी वजह से डीएसओ की टीम कभी भी पेट्रोल पंप पर छापा नहीं मारती थी. मामले का खुलासा होते ही पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया था. अब जिला पूर्ति अधिकारी बीके शुक्ला को भी गिरफ्तार कर लिया गया है. एसएसपी आकाश तोमर ने बताया कि डीएसओ विभाग मुजफ्फरनगर के कई कर्मचारी और अधिकारी पेट्रोल- डीजल चोरी प्रकरण में शामिल हैं. जैसे-जैसे इनके खिलाफ सबूत मिलते जाएंगे, वैसे-वैसे इन लोगों को गिरफ्तार किया जाएगा. पुलिस इन सभी अभियुक्तों पर गैंगस्टर एक्ट और NSA के तहत कार्रवाई करने जा रही है.

Tags: IOC, Petrol and diesel, Saharanpur news, Saharanpur Police, Up crime news, UP police, Yogi government, मुजफ्फरनगर, सहारनपुर

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें