Assembly Banner 2021

सहारनपुर : टैक्स चोरी के मामले में टपरी डिस्टलरी पहुंची SIT, कई दस्तावेज जब्त, पूछताछ जारी

देव रंजन (IPS) एसआईटी प्रभारी ने बताया कि कई दस्तावेज जब्त किए गए हैं, जिनकी जांच की जाएगी.

देव रंजन (IPS) एसआईटी प्रभारी ने बताया कि कई दस्तावेज जब्त किए गए हैं, जिनकी जांच की जाएगी.

एसआईटी ने टपरी डिस्टलरी से कई दस्तावेज अपने कब्जे में ले डिस्टलरी कर्मचारियों, अधिकारियों व आबकारी विभाग के लोगों पूछताछ कर रही है.

  • Share this:
सहारनपुर. टपरी डिस्टलरी (Tapri distillery) में हुए 100 करोड़ के टैक्स चोरी (tax evasion) मामले में योगी सरकार (Yogi Government) ने एसआईटी (SIT) का गठन किया है. आईपीएस देव रंजन के नेतृत्व में एसआईटी की टीम लखनऊ (Lucknow) से सहारनपुर (Saharanpur) पहुंची थी और फिर वहां से टपरी डिस्टलरी. एसआईटी ने टपरी डिस्टलरी से कई दस्तावेज अपने कब्जे में ले डिस्टलरी कर्मचारियों, अधिकारियों व आबकारी विभाग के लोगों पूछताछ कर रही है. टैक्स चोरी के मामले में सहायक आबकारी आयुक्त, उप आबकारी आयुक्त समेत अबतक कई लोगों को सस्पेंड किया जा चुका है.

10 लोग अभी तक भेजे गए जेल

आपको बता दें कि एसटीएफ की टीम ने पिछले 3 मार्च को कोऑपरेटिव कंपनी लिमिटेड टपरी सहारनपुर, स्थानीय आबकारी डिस्ट्रीब्यूटरों और को-ऑपरेटिव फैक्ट्री टपरी में नियुक्त आबकारी विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों की मिलीभगत से भारी मात्रा में टैक्स और एक्साइज ड्यूटी की चोरी का पर्दाफाश किया था. एसटीएफ के छापे में 10 लोग अब तक गिरफ्तार किए जा चुके हैं.



साक्ष्यों का आकलन कर रही एसआईटी
देव रंजन (IPS) एसआईटी प्रभारी ने बताया कि सहारनपुर के टपरी में जो शराब फैक्ट्री है, यहां पर एसटीएफ और आबकारी विभाग की टीम ने छापेमारी कर कई अनियमितताएं उजागर की थीं. इस पूरी जांच का जिम्मा एसआईटी को दे दिया गया है और एसआईटी की टीम आज यहां पहुंची है. यहां पर हमने घटनास्थल का निरीक्षण किया है. कई कागजात देखे हैं. कई लोगों से पूछताछ की है. अभी जो भी अनियमितताएं मिली हैं, उनमें जो भी साक्ष्य मिलें हैं, हम उनका आकलन अभी कर रहे हैं. बयानों के आधार पर जो जानकारी मिलेगी, उसपर हम कार्रवाई करेंगे. इस मामले में कुछ लोगों की गिरफ्तारी हुई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज