सिद्धपीठ मां शाकुंभरी देवी दर्शन के लिए जान जोखिम में डालकर उफनाती नदी पार कर रहे लोग

सहारनपुर में सिद्धपीठ मां शाकुंभरी देवी के दर्शन को जाते लोग.

Saharanpur News: मंदिर व्यवस्थापक आदित्य राणा ने अपील करते हुए कहा है कि सभी श्रद्धालु अपनी जान की सुरक्षा करते हुए देवी के दर्शन करें. नदी में बाढ़ आने पर पानी कम होने का इंतजार करें. उफनाती नदी का पार करना जान जोखिम में डालना है. कृपया ऐसा न करें.

  • Share this:
सहारनपुर. उत्तर प्रदेश के सहारनपुर (Saharanpur) जिले में पहाड़ों पर होने वाली बारिश घाड़ क्षेत्र में आफत का सबब बन रही है. शिवालिक पहाड़ियों में हुई भारी बारिश से घाड़ क्षेत्र की बरसाती नदियों में उफान आ गया है. इससे सिद्धपीठ मां शाकुंभरी देवी (Siddhpeetha mother Shakumbhari Devi) के दर्शन करने आ रहे श्रद्धालुओं को भी काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. लेकिन लोग जान को जोखिम में डालकर उफनाती नदी को पार करके माता के दर्शन को जा रहे हैं.

आपको बता दें कि जनपद सहारनपुर की तहसील बेहट का इलाका घाड़ क्षेत्र कहलाता है. यहां बरसाती नदियों का जाल बिछा हुआ है. शिवालिक पहाड़ियों में होने वाली बारिश से घाड़ क्षेत्र की नदियों में बाढ़ आ जाती है. मां शाकुंभरी नदी में बाढ़ आने से सैकड़ों श्रद्धालु बाबा भूरा देव मंदिर पर घंटों फंसे रहे. इस दौरान कुछ श्रद्धालु जान-हथेली पर रखकर सिद्ध पीठ मां शाकुंभरी देवी के दरबार में दर्शन करने जा रहे हैं.

जान का जोखिम

saharanpur flooded river, Sidhapeeth maa Shakumbhari devi darshan,
सहारनपुर में सिद्धपीठ मां शाकुंभरी देवी के दर्शन को जाते लोग.


स्थानीय लोगों का कहना है की गोपनीय नवरात्र होने के कारण श्रद्धालुओं की भीड़ लगातार मां शाकुंभरी देवी के दर्शन करने के लिए उमड़ रही है. वहीं मंदिर के व्यवस्थापक आदित्य राणा व स्थानीय प्रशासन की ओर से श्रद्धालुओं के लिए अलर्ट भी जारी किया गया है. मंदिर व्यवस्थापक आदित्य राणा ने अपील करते हुए कहा कि सभी श्रद्धालु अपनी जान की सुरक्षा करते हुए देवी के दर्शन करें नदी में बाढ़ आने पर पानी कम होने का इंतजार करें. उफनाती नदी का पार करना जान जोखिम में डालना है. कृपया ऐसा न करें.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.