Solar Eclipse: यूपी के सहारनपुर में कुछ ऐसा दिखा 'रिंग ऑफ फायर', लोगों ने कैमरे में किया कैद
Saharanpur News in Hindi

Solar Eclipse: यूपी के सहारनपुर में कुछ ऐसा दिखा 'रिंग ऑफ फायर', लोगों ने कैमरे में किया कैद
सहारनपुर के बेहटा कस्बे में दिखा वलयाकार सूर्य ग्रहण

सहारनपुर जिले का बेहट कस्बा अचानक से वैज्ञानिकों में चर्चा का विषय बन गया था. यहां कुछ ऐसा होने वाला था जो अगले 360 सालों तक नहीं होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 21, 2020, 12:46 PM IST
  • Share this:
सहारनपुर. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के सहारनपुर (Saharanpur) जिले में सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse) का अद्भुत नजारा रविवार को देखने को मिला. जैसा कि कहा गया था जिले के बेहट कस्बे में देश-विदेश की वैज्ञानिकों की नजर है. वह सच साबित हुआ.  सूर्य ग्रहण के अवसर पर रिंग ऑफ़ फायर के तौर पर नजर आया. न्यूज18 के कैमरे में भी यह खगोलीय घटना कैद हुई. सूर्य पूरी तरह से एक रिंग की तरह दिखाई दे रहा है और यह लम्हा ठीक  12:02 पर आया.

दरअसल, सहारनपुर जिले का बेहट कस्बा अचानक से वैज्ञानिकों में चर्चा का विषय बन गया था. यहां कुछ ऐसा होने वाला था जो अगले 360 सालों तक नहीं होगा. यही वजह थी कि उत्तर प्रदेश के 75 जिलों के हजारों गांवों में बेहट की चर्चा सबसे ज्यादा हो रही थी. बता दें कि कि बेहाट उत्तर प्रदेश की इकलौती ऐसी जगह है जहां से 21 जून को होने वाला वलयाकार सूर्यग्रहण पूरा दिखाई दिया. यूपी में बाकी किसी भी शहर को यह नसीब नहीं हुआ.

सहारनपुर से जैसे-जैसे पूर्वी उत्तर प्रदेश और बुंदेलखंड की ओर बढ़ते जाएंगे वैसे वैसे सूर्य ग्रहण ग्रहण आंशिक होता जाएगा. इसी रिंग ऑफ फायर के कारण ढेर सारे खगोल शास्त्री और वैज्ञानिक 21 जून को बेहाट पहुंचे. लखनऊ के इंदिरा गांधी नक्षत्रशाला में वैज्ञानिक अधिकारी सुमित श्रीवास्तव ने बताया कि जिस जगह पर पूरा वलयाकार सूर्यग्रहण या पूर्ण सूर्यग्रहण होता है. वहां दोबारा ऐसी खगोलीय घटना 360 सालों बाद ही होती है.



उत्तराखंड में भी दिखा ये नजारा
सुमित श्रीवास्तव बताते हैं कि वैसे तो उत्तराखंड के कई इलाकों से पूरा वलयाकार सूर्यग्रहण देखा जा सकेगा, लेकिन उत्तर प्रदेश में सिर्फ सहारनपुर के बेहाट में ही इसके दर्शन होंगे. उन्होंने यह भी बताया कि सहारनपुर से जैसे-जैसे हम दूर होते जाएंगे वैसे-वैसे पूर्ण वलयाकार सूर्यग्रहण आंशिक सूर्यग्रहण में बदलता जाएगा. सूर्य की कटान सबसे ज्यादा पश्चिमी यूपी में दिखेगी और सबसे कम पूर्वांचल में. राजधानी लखनऊ में 84 फ़ीसदी कटा हुआ सूर्य दिखेगा. फायर ऑफ रिंग कहीं नहीं देखने को मिलेगा. लखनऊ में इसकी शुरुआत सुबह 10:17 पर हो जाएगी जो दोपहर के 2:02 तक चलेगी. यानी कुल 3 घंटे 45 मिनट सूर्य ग्रहण दिखाई देगा. लखनऊ में सूर्य का सबसे ज्यादा कटान दोपहर 12:11:15 से 12:12:02 तक कुल 47 सेकंड के लिए देखने को मिलेगा.

(इनपुट: देवेश त्यागी)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज