Home /News /uttar-pradesh /

UP Elections: सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने सरकार को कोसा - ये नाम और रंग बदलने वाले लोग हैं

UP Elections: सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने सरकार को कोसा - ये नाम और रंग बदलने वाले लोग हैं

सहारनपुर की सभा में सपा सुप्रीमो अथिलेश यादव.

सहारनपुर की सभा में सपा सुप्रीमो अथिलेश यादव.

Saharanpur News : गोरखपुर में जनसभा को संबोधित करते हुए अखिलेश यादव ने प्रदेश सरकार पर निशाना साधा और कहा कि ये नाम और रंग बदलने वाले लोग हैं. नाम बदल कर इतिहास बदलना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि भाजपा का सफाया करने के लिए जनता तैयार है.

अधिक पढ़ें ...

सहारनपुर. सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव सहारनपुर में प्रदेश सरकार पर जमकर बरसे. उन्होंने जनसभा को संबोधित करते हुए प्रदेश सरकार पर निशाना साधा और कहा कि ये नाम और रंग बदलने वाले लोग हैं. नाम बदल कर इतिहास बदलना चाहते हैं. अखिलेश ने कहा कि भाजपा का सफाया करने के लिए जनता तैयार है. कोरोना काल में लोगों के शव बहते दिखे, लोगों को वक्त पर दवा नहीं मिली. दरअसल अखिलेश यादव स्व. चौधरी यशपाल की 100वीं जयंती के उपलक्ष्य में आयोजित श्रद्धांजलि कार्यक्रम में सहारनपुर आए हुए थे.

अखिलेश यादव ने कहा कि अबकी बार 300 के पार. यूपी सरकार सब बेच रही, बस अब संविधान का नंबर है. संविधान को कुचलने की भी कोशिश हो रही है. किसानों के साथ-साथ कानून को कुचलने का करती है बीजेपी. किसानों ने ठाना है कि जब तक तीनों बिल वापस नहीं हो जाते घर वापसी नहीं होगी. अखिलेश यादव ने कहा सरकार कहती है कि किसान गन्ना न बोएं, डायबिटीज होती है. 500 रुपए महीना सम्मान नहीं गरीब के साथ धोखा है.

कोरोना में लाखों की जान गई लेकिन सरकार ने कोई परवाह नही की. हमारे गरीब लोगों की मौत पर लकड़ी तक नहीं मिली. सरकार कहती है कि गंगा में सब लाशें बिहार से बहकर आईं. किसान भाइयों ये आपका चुनाव है. ये नौजवान का चुनाव है. पुलिस के लिए 100 नंबर की गाड़ी बनाई, बाबा ने 100 से 112 कर दी. यह सरकार नाम बदलकर इतिहास बदलना चाहती है. करोबार ठप कर रही है सरकार, सब प्राइवेट हाथों में जा रहा है. किसान सब एक हैं, न कोई हिंदू, न कोई मुसलमान. जो धुआं उड़ाकर सरकार चला रहे हो वो सब धुआं-धुआं कर देंगे. बस इस बीजेपी को रोकना है. समाजवादी सरकार बनी तो 3 महीने बाद सहारनपुर से लखनऊ का रास्ता 4 घंटे का होगा. समाजवादी सरकार बनी तो किसानों का ध्यान रखा जाएगा.

बता दें कि यूपी विधानसभा चुनाव जैसे-जैसे नजदीक आ रहे हैं, वैसे ही राजनीतिक दलों ने अपने कार्यक्रम बढ़ा दिए हैं. सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की पश्चिमी यूपी में 2022 के चुनाव से पहले यह पहली जनसभा थी. चूंकि तीतरो कस्बा गंगोह विधानसभा क्षेत्र में आता है, जबकि यह क्षेत्र कैराना लोकसभा क्षेत्र का हिस्सा है. इस लिहाज से यहां होने वाली जनसभा सहारनपुर के साथ ही शामली और मुजफ्फरनगर के भी सियासी समीकरण साधने के लिए अहम मानी जा रही है. आज की जनसभा में सहारनपुर के अलावा शामली, मुजफ्फरनगर, बागपत, मेरठ, गाजियाबाद और गौतमबुद्धनगर जिले से भी सपा नेता पहुंचे. सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की तीतरो में की गई जनसभा कई मायने में अहम मानी जा रही है, क्योंकि सपा की तरफ से विधानसभा चुनाव का आगाज भी हुआ है. जनसभा के माध्यम से सपा नेता सियासी समीकरण साधने के साथ ही कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे आंदोलन को लेकर किसानों को लामबंद करने का भी प्रयास कर रहे हैं.

Tags: Akhilesh yadav, CM Yogi Adityanath, UP Assembly Elections 2022

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर