• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • BJP नेता बोले- सोने और चांदी के गहने नहीं, धनतेरस पर खरीदें तलवार

BJP नेता बोले- सोने और चांदी के गहने नहीं, धनतेरस पर खरीदें तलवार

चित्रकोट उपचुनाव में बीजेपी को हार मिलती है तो प्रदेश का बस्तर संभाग बीजेपी मु​क्त हो जाएगा. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

चित्रकोट उपचुनाव में बीजेपी को हार मिलती है तो प्रदेश का बस्तर संभाग बीजेपी मु​क्त हो जाएगा. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के भारतीय जनता पार्टी (BJP) के एक नेता ने हिंदुओं (Hindu) से अजीब अपील की है. देवबंद बीजेपी अध्यक्ष गजराज राणा (Gajraj Rana) ने कहा है कि धनतेरस (Dhanteras) पर हिंदुओं को आभूषण के बजाय तलवार खरीदना चाहिए.

  • Share this:
    सहारनपुर. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के भारतीय जनता पार्टी (BJP) के एक नेता ने हिंदुओं (Hindu) से अजीब अपील की है. देवबंद बीजेपी अध्यक्ष गजराज राणा (Gajraj Rana) ने कहा है कि धनतेरस (Dhanteras) पर हिंदुओं को आभूषण के बजाय तलवार खरीदना चाहिए. हिंदू मान्यताओं के मुताबिक, दिवाली (Diwali) से पहले धनतेरस का त्योहार मनाया जाता है. इस दिन रत्न, आभूषण और धातु खरीदने की परंपरा है. इस साल धनतेरस का त्योहार 25 अक्टूबर को पड़ा है.

    मीडिया से बात करते हुए गजेंद्र राणा ने कहा, 'अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला जल्द ही आने वाला है. मुझे विश्वास है कि यह राम मंदिर के हक में आएगा. हालांकि इस फैसले के बाद माहौल बिगड़ सकता है. इसी कारण यह सलाह दी जाती है कि हिंदू गहने खरीदने की बजाय लोहे की तलावार खरीदें. हालात बिगड़ने पर ये तलवार अपनी सुरक्षा में काम आएंगे.'

     किसी धर्म या समुदाय के खिलाफ नहीं बोला
    इस बयान के बाद राणा ने सफाई भी दी. उन्होंने कहा कि मैंने किसी समुदाय या धर्म के खिलाफ एक शब्द भी नहीं बोला है. राणा ने कहा कि हमारे रिति रिवाज में शस्त्र पूजा होती है. भगवान और देवियों ने भी परिस्थितियों के हिसाब से शस्त्र का इस्तेमाल किया है. मेरी टिप्पणी वर्तमान समय के बदलते हालात पर थी और यह अपने समुदाय के लिए बस एक सलाह भर थी. इसमें कोई और मायने नहीं निकालने चाहिए.

    पार्टी ने राणा के बयान से किया खुद को अलग
    राणा के इस बयान पर पार्टी ने खुद को अलग कर लिया है. उत्तर प्रदेश के बीजेपी प्रवक्ता चंद्रमोहन ने कहा, 'बीजेपी इस तरह की भाषा को स्वीकार्य नहीं करती है. यह उनका व्यक्तिगत बयान है. पार्टी में नेताओं को साफ निर्देश दिए गए हैं. कोई भी बयान या काम कानून के मुताबिक होना चाहिए. कानून से कोई भी बड़ा नहीं है.'

    अपने बयानों से चर्चा में रहते हैं राणा
    गजराज राणा अपने विवादित बयानों के लिए पहले भी चर्चा में रह चुके हैं. बीते मई में हुए लोकसभा चुनाव में उन्होंने दारुल उलूम को आतंकवाद का समानार्थी करार दिया था. एक अन्य बयान में उन्होंने कहा था कि मक्का में शिवलिंग है और एक समय में वहां हिंदू रहा करते थे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज