आखिर शाहरुख खान से क्यों नाराज़ हैं मुस्लिम धर्मगुरु!

"शाहरुख खान का जन्माष्टमी मनान ही गैर इस्लामी है. अपने घर पर दूसरे धर्म का त्योहार मनाना शाहरुख खान को उसके धर्म से अलग कर देता है"

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 6, 2018, 6:47 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: September 6, 2018, 6:47 PM IST
बॉलीबुड के बादशाह शाहरुख खान से  इनदिनों फतवों की नगरी देवबन्द के उलेमा नाराज चल रहे हैं. उलेमा दरअसल कृष्ण जन्माष्टमी के मौके पर शाहरुख खान द्वारा मटकी फोड़े जाने से खफा है. उनका कहना है कि शाहरुख हो या कोई भी, जो भी इस्लाम के विरुद्ध काम करता है वो इस्लाम से खारिज हो जाता है.

शाहरूख खान के जन्माष्टमी का त्यौहार मनाने पर देवबंदी उलेमाओं का कहना है कि "शाहरुख खान का जन्माष्टमी मनान ही गैर इस्लामी है. अपने घर पर दूसरे धर्म का त्योहार मनाना शाहरुख खान को उसके धर्म से अलग कर देता है" आपको बता दें कि सोमवार को भागवान श्री कृष्ण के जन्मोत्सव को धूमधाम से मनाया गया. इस मौक पर फिल्म स्टार शाहरुख खान ने भी अपने घर पर जन्माष्टमी का त्योहार मनाया और दही-हांडी तोड़ी. बस इसी बात पर देवबंदी उलेमा खफा हो गाए.

कोर्ट में पेश किए गए पूर्व सांसद अतीक अहमद, छोटे भाई के खिलाफ गैर जमानती वारंट

उलेमा सालिम अशरफ कासमी ने कहा कि हिंदुस्तान गंगा जमुनी तहजीब का मुल्क है और यहां एक दूसरे की खुशियों में शरीक होना और आपस में यह बताना कि हम सब एक हैं, ना तो इस्लाम इससे रोकता है और ना मना करता है. अलबत्ता किसी दूसरे धर्म के त्योहार को अपने यहां मनाना उस आदमी को धर्म से निकाल देता है जिस कलाकार का नाम आप ले रहे हैं. उस पर दारुल उलूम ने फिलहाल कोई फतवा तो नहीं दिया है.

हरदोई में बार बालाओं के डांस को मिली पुलिसिया सुरक्षा
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर