Home /News /uttar-pradesh /

Mission 2022: दलित वोट बैंक रिझाने में जुटी सपा, कहा- कांशीराम के मिशन को आगे बढ़ा रहे हैं अखिलेश

Mission 2022: दलित वोट बैंक रिझाने में जुटी सपा, कहा- कांशीराम के मिशन को आगे बढ़ा रहे हैं अखिलेश

बसपा के छह पूर्व प्रदेश अध्यक्ष के सपा में शामिल होने पर समाजवादी पार्टी ने राष्ट्रीय महासचिव इन्द्रजीत सरोज ने कहा कि बसपा के बाद सपा की ही विचारधारा उसके नजदीक है. (फाइल फोटो)

बसपा के छह पूर्व प्रदेश अध्यक्ष के सपा में शामिल होने पर समाजवादी पार्टी ने राष्ट्रीय महासचिव इन्द्रजीत सरोज ने कहा कि बसपा के बाद सपा की ही विचारधारा उसके नजदीक है. (फाइल फोटो)

UP Assembly Election 2022: सपा (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय महासचिव इन्द्रजीत सरोज ने दलित वोटर्स (Dalit Voters) के साथ जनसंवाद किया. इस मौके पर उन्होंने कहा कि मान्यवर कांशीराम जो मिशन लेकर चले थे वो पूरा नहीं हो रहा है. मायावती उससे भटक गई हैं. कांशीराम ने जो विचारधारा दिया है उस विचारधारा को लेकर आज हम चल रहे हैं. वर्तमान में उस विचारधारा को लेकर अखिलेश यादव ही लेकर चल रहे हैं.'

अधिक पढ़ें ...

गोरखपुर. मिशन 2022 (UP Assembly Election 2022) में समाजवादी पार्टी दलित वोट बैंक को अपने पाले में लाने की लगातार कोशिश करती दिख रही है. ऐसी ही एक कोशिश गोरखपुर में दिखा, जहां सपा (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय महासचिव इन्द्रजीत सरोज ने दलित वोटर्स (Dalit Voters) के साथ जनसंवाद किया. इस मौके पर उन्होंने कहा कि आज बसपा के 6 पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सपा में हैं. सपा ही एक ऐसी पार्टी है जो दलितों का हित सोचती है. भाजपा तो सिर्फ झूठ बोलती है.

इस दौरान सरोज के भाषण में बसपा से बाहर आने का दर्द अभी भी दिखाई दे रहा था. यहां उन्होंने कहा, ‘छात्र जीवन से ही मैं बसपा में लगा था. मायावती का उदय 1995 में हुआ था, जबकि हमलोग 1983 से इससे जुड़े थे. मान्यवर कांशीराम जो मिशन लेकर चले थे वो पूरा नहीं हो रहा है. मायावती उससे भटक गई हैं. कांशीराम ने जो विचारधारा दिया है उस विचारधारा को लेकर आज हम चल रहे हैं. वर्तमान में उस विचारधारा को लेकर अखिलेश यादव ही लेकर चल रहे हैं.’

ये भी पढ़ें- दिल्ली से जेवर 20 मिनट, वहां से लखनऊ 1 घंटे और 2 घंटे में वाराणसी, ऐसा होगा बुलेट सफर

बसपा के छह पूर्व प्रदेश अध्यक्ष के सपा में शामिल होने पर सरोज ने कहा कि बसपा के बाद सपा की ही विचारधारा उसके नजदीक है. आज दलित चौराहे पर खड़ा है. वो सिर्फ सपा की तरफ आ रहा है. सबका भरोसा सपा पर है. सबको भागीदारी दे रहे हैं.
ये भी पढ़ें- भेलपूरी बेचने वाला निकला शातिर ठग, 300 लोगों को लगाया 5 करोड़ का चूना

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि भाजपा बिना दांत के ही शेर पैदा करती है. ये सांसद , विधायक, मंत्री बना देते हैं पर उसको पावर नहीं देते हैं, वो किसी का काम नहीं करा सकते हैं. भाजपा में वन मैन शो है. भाजपा के नेता झूठ बोलते हैं, न तो नौकरियां मिली, न महंगाई कम हुई, न गुंडाराज कम हुआ, किसानों की आय दोगुनी करने की बात कही थी वो भी नहीं हुआ.

वहीं यूपी की कानून-व्यवस्था पर योगी सरकार को घेरते हुए वह कहते हैं, ‘गोरखपुर में एक व्यापारी की हत्या हो जाती है, प्रयागराज में एक पासी परिवार के चार लोगों की हत्या हो गई. सड़कों पर सांड घूम रहे हैं, हाइवे पर घूम रहे हैं. उनके लिए प्रबंधन नहीं किया गया है.’ इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में बसपा को दो लोग चला रहे हैं, एक दिन बसपा के ट्विटर हैंडल से ट्वीट था कि अब पार्टी को आकाश और सतीश मिश्रा के पुत्र आगे बढ़ाएंगे.

Tags: Akhilesh yadav, BSP, Samajwadi party, UP Election 2022

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर