Home /News /uttar-pradesh /

जिन्ना से पटेल की तुलना पर CM योगी ने घेरा अखिलेश को, अब बचाव में उतरे शफीकुर्रहमान बर्क

जिन्ना से पटेल की तुलना पर CM योगी ने घेरा अखिलेश को, अब बचाव में उतरे शफीकुर्रहमान बर्क

जिन्ना के बयान पर सीएम के निशाने पर आते ही अखिलेश के बचाव में आए शफीकुर्रहमान बर्क.

जिन्ना के बयान पर सीएम के निशाने पर आते ही अखिलेश के बचाव में आए शफीकुर्रहमान बर्क.

Akhilesh Yadav controversial statement : जिन्ना को लेकर अखिलेश यादव द्वारा दिए गए विवादित बयान के बाद सियासत गर्म है. सीएम योगी ने जिन्ना से सरदार पटेल की तुलना पर इसे अखिलेश की तालिबानी सोच बता दिया. मायावती ने भी हमला बोला. इसके बाद संभल के सांसद शफीकुर्रहमान बर्क उनके समर्थन में आए हैं. शफीकुर्रहमान बर्क ने कहा ​है कि अखिलेश यादव की तालिबानी सोच नहीं है. न उनके इस तरह के ख्यालात हैं. जब सवाल पूछा जाएगा तो कुछ तो आदमी जबाब देता ही है. इसमें तालिबानी सोच की बात ग़लत है.

अधिक पढ़ें ...

संभल. जिन्ना को लेकर अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) द्वारा दिए गए विवादित बयान के बाद संभल के सांसद शफीकुर्रहमान बर्क (Shafiqur Rahman Barq) उनके समर्थन में आए हैं. अखिलेश ने जिन्ना और सरदार वल्लभ भाई पटेल को लेकर बयान दिया था, जिसे सीएम योगी आदित्यनाथ ने तालिबानी सोच बताया था. अब इस पर सांसद शफीकुर्रहमान बर्क ने कहा ​है कि अखिलेश यादव की तालिबानी सोच नहीं है. न उनके इस तरह के ख्यालात हैं. जब सवाल पूछा जाएगा तो कुछ तो जबाब दिया ही जाएगा. इसमें तालिबानी सोच की बात ग़लत है.

गौरतलब है कि रविवार को मोहम्मद अली जिन्ना और सरदार पटेल को लेकर अखिलेश यादव ने बयान दिया था. हरदोई में विजय रथ लेकर पहुंचे समाजवादी पार्टी के सुप्रीमो पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा था कि सरदार पटेल, राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, जवाहरलाल नेहरू और जिन्ना एक ही संस्था में पढ़ कर बैरिस्टर बन कर आए थे. एक ही जगह पर पढ़ाई लिखाई की. वह बैरिस्टर बने और उन्होंने आजादी दिलाई. इस बयान के सामने आते ही अखिलेश यादव सीधे अपने राजनीतिक विरोधियों के निशाने पर आ गए.

सुनें सांसद शफीकुर्रहमान बर्क का बयान

वहीं दूसरी तरफ बसपा सुप्रीमो मायावती ने भी अखिलेश पर तीखा प्रहार किया है. मायावती ने अखिलेश के बयान को सपा-भाजपा की मिलीभगत बताया है. मायावती ने ट्वीट करते हुए कहा, सपा मुखिया द्वारा जिन्ना को लेकर कल हरदोई में दिया गया बयान व उसे लपक कर भाजपा की प्रतिक्रिया यह इन दोनों पार्टियों की अन्दरुनी मिलीभगत व इनकी सोची-समझी रणनीति का हिस्सा है. ताकि यहां यूपी विधानसभा आमचुनाव में माहौल को किसी भी प्रकार से हिन्दू-मुस्लिम करके खराब किया जाए.

मायावती ने आगे कहा, सपा व भाजपा की राजनीति एक-दूसरे के पोषक व पूरक रही है. इन दोनों पार्टियों की सोच जातिवादी व साम्प्रदायिक होने के कारण इनका आस्तित्व एक-दूसरे पर आधारित रहा है. इसी कारण सपा जब सत्ता में होती है तो भाजपा मजबूत होती है जबकि बीएसपी जब सत्ता में रहती है तो भाजपा कमजोर होती है.

अखिलेश यादव के बयान के बाद अब संभल से सांसद शफीकुर्रहमान बर्क ने कहा ​है कि अखिलेश यादव की तालिबानी सोच नहीं है. न उनके इस तरह के ख्यालात हैं. जब सवाल पूछा जाएगा तो कुछ तो जबाब दिया ही जाएगा. इसमें तालिबानी सोच की बात ग़लत है.

Tags: Akhilesh Yadav controversial statement, CM Yogi Adityanath, Shafiqur Rahman Barq, Statement on Akhilesh Yadav Jinnah

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर