'अयोध्या से लाए चकला-बेलन को सीता मां का समझ लोगों ने दिया 3 लाख का चढ़ावा'

संभल से कांग्रेस प्रत्याशी मेजर जगत पाल ने कहा कि आयोध्या विवाद को दौरान बीजेपी ने उन्हें अयोध्या भेजा था. लेकिन इस दौरान वे वहां से चकला बेलन खरीद लाए.

News18 Uttar Pradesh
Updated: April 21, 2019, 6:05 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: April 21, 2019, 6:05 PM IST
लोकसभा चुनाव 2019 के तीसरे चरण के लिए पार्टियों का प्रचार अभियान पूरे जोर-शोर से जारी है. इस कड़ी में संभल से कांग्रेस उम्मीदवार मेजर जगत पाल सिंह का बड़ा बयान सामने आया है. मेजर जगत पाल ने कहा कि आयोध्या विवाद को दौरान बीजेपी ने उन्हें अयोध्या भेजा था. लेकिन इस दौरान वे वहां से चकला-बेलन खरीद लाए. जिसे लोगों ने सीता माता का समझकर लाखों रुपये का चढ़ावा चढ़ा दिया. मेजर के बयान के बाद विवाद खड़ा हो गया है.

दरअसल, मेजर जगत पाल सिंह संभल में एक जनसभा को संबोधित करने पहुंचे थे. इस दौरान उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि अयोध्या आंदोलन के दौरान बीजेपी ने उन्हें अयोध्या पहुंचने का आदेश दिया था. लेकिन वह अयोध्या नहीं गए, बल्क़ि बाजार से चकला-बेलन खरीद लाए और उसे सीता माता का बताकर इलाके में खूब घुमाया. सीता माता का होने की आस्था में लोगों ने चकला-बेलन पर 3 लाख का चढ़ावा चढ़ा दिया.



मेजर ने कहा कि उसी पैसे से उन्होंने एमएलए का चुनाव लड़ा था. बता दें कि जगत पाल सिंह ने हाल ही में बीजेपी का दामन छोड़कर कांग्रेस का हाथ थामा है. कांग्रेस ने उन्हें सभल से अपना उम्मीदवार बनाया है. लेकिन संभल में कांग्रेसियों ने उस पर अयोध्या के विवादित ढांचे को गिराने के समय वहां ईंट लाने का आरोप लगा दिया. जिसपर कांग्रेस में खुद को पाक साफ साबित करने लिए मेजर ने अयोध्या जाने की बात से इंकार कर दिया.

ये भी पढ़ें- रामपुर में बोले CM योगी- यूपी में अपराधी जेल में होगा, या राम-राम सत्य होगा

बते दें कि 2014 के चुनाव में संभल से बीजेपी नेता सत्यपाल सिंह महज 5,174 मतों से एसपी के प्रत्याशी शफीकुर्रहमान बर्क को हराने में कामयाब रहे थे. लेकिन इस बार बीजेपी के सामने गठबंधन की मजबूत दीवार है, जिसे तोड़ पाना पार्टी के लिए असान नहीं होगा. इस बार बीजेपी ने परमेश्वर लाल सैनी को मैदान में उतारा है. एसपी की तरफ से शफीकुर्रहमान बर्क और कांग्रेस ने मेजर जगत पाल सिंह को टिकट दिया है. संभल में 23 अप्रैल को तीसरे चरण में वोट डाले जाएंगे.

ये भी पढ़ें-

राहुल गांधी के नागरिकता विवाद पर अखिलेश ने झाड़ा पल्ला, कहा- मुझे जानकारी नहीं'चौकीदारों' का गांव हैं और यहां चोरों का प्रवेश वर्जित...

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स 
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

News18 चुनाव टूलबार

चुनाव टूलबार