अपना शहर चुनें

States

जावेद अख्तर के ट्वीट पर भड़के सपा सांसद, कहा- अजान पर दखलंदाजी बर्दाश्त नहीं

जावेद अख्तर के ट्वीट पर भड़के सपा सांसद (फाइल फोटो)
जावेद अख्तर के ट्वीट पर भड़के सपा सांसद (फाइल फोटो)

85 साल के सपा सांसद ने जावेद अख्तर (Javed Akhtar) पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्होंने अजान पर तो ट्वीट किया, लेकिन शराब की बिक्री को लेकर कुछ नहीं कहा.

  • Share this:
संभल. वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (COVID-19) के चलते देश भर में लॉकडाउन (Lockdown) लागू है. इसी बीच लेखक और मशहूर गीतकार जावेद अख्तर के अजान को लेकर किए गए ट्वीट पर मंगलवार को समाजवादी पार्टी के सांसद डॉ. शफीकुर्रहमान बर्क भड़क गए. सपा सांसद ने चेतावनी देते हुए कहा कि जावेद अख्तर की इस तरह की बातों को देश का मुसलमान बर्दाश्त नहीं करेगा.

सपा सांसद डॉ. शफीकुर्रहमान बर्क ने कहा, ''जावेद अख्तर भले ही कोई बड़े आदमी हों, लेकिन उन्हें अजान के बारे में लिखने का कोई अधिकार नहीं है. अजान वर्षों से होती आई है और होती रहेगी. इस मामले में कोई दखलंदाजी नहीं कर सकता है, चाहे कोई भी कानून क्यों न हो. यह शरीयत का हिस्सा है."

सांसद शफीकुर्रहमान ने कहा कि गीतकार जावेद अख्तर के मामले में मुस्लिम धर्मगुरु ही फैसला करेंगे. 85 साल के सपा सांसद ने जावेद अख्तर पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्होंने अजान पर तो ट्वीट किया, लेकिन शराब की बिक्री को लेकर कुछ नहीं कहा. लॉकडाउन में शराब की बिक्री की जा रही है और लोग पीकर सड़कों पर पड़े हैं.





शफीकुर्रहमान ने कहा कि अजान पर ट्वीट के बहाने अभिव्यक्ति की आजादी को रोकने की कोशिश की है. इससे पहले जावेद अख्तर ने अपने ट्वीट में लिखा, "भारत में तकरीबन 50 साल तक लाउड स्पीकर पर अजान हराम थी. इसके बाद ये हलाल हो गई और इस कदर हलाल हुई कि इसकी कोई सीमा ही नहीं रही. अजान करना ठीक है लेकिन लाउड स्पीकर पर इसे करना दूसरों के लिए दिक्कत का सबब बन जाता है. मुझे उम्मीद कि कम से कम इस बार वो इसे खुद करेंगे."

जावेद अख्तर के बयान के बाद रमजान के महीने में एक लंबी चौड़ी बहस सोशल मीडिया पर शुरू हो गई है. बता दें कि इससे पहले सोनू निगम लाउड स्पीकर पर अजान से जुड़े बयान देकर अचानक विवादों में आ गए थे.

ये भी पढ़ें:- रंग लाया खून से लिखा खत नहीं बदलेगा इलाहाबाद विश्वविद्यालय का नाम
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज