होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /...तो संभल का रहने वाला था अमेरिकी एयरस्ट्राइक में मारा गया अलकायदा आतंकी! जानें UP पुलिस का जवाब

...तो संभल का रहने वाला था अमेरिकी एयरस्ट्राइक में मारा गया अलकायदा आतंकी! जानें UP पुलिस का जवाब

अफगानिस्तान में पिछले दिनों अमेरिकी एयरस्ट्राइक में मारे गए अलकायदा के 6 आतंकियों में से आसिम उमर भी था. (फाइल फोटो)

अफगानिस्तान में पिछले दिनों अमेरिकी एयरस्ट्राइक में मारे गए अलकायदा के 6 आतंकियों में से आसिम उमर भी था. (फाइल फोटो)

उत्तर प्रदेश के एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) पीवी रामाशास्त्री ने कहा कि सनाउल्लाह नाम का व्यक्ति साल 1998 से संभल से गायब है. ...अधिक पढ़ें

    संभल. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के संभल (Sambhal) से बड़ी खबर सामने आ रही है. पता चला है कि अफगानिस्तान (Afghanistan) में पिछले दिनों अमेरिकी एयरस्ट्राइक में मारे गए अलकायदा के छह आतंकियों में से एक संभल का रहने वाला था. इसका नाम आसिम उमर बताया जा रहा है. जानकारी के अनुसार, 90 के दशक में वह संभल से भाग कर आतंकी संगठन अलकायदा में शामिल हो गया था. उधर, मामले में उत्तर प्रदेश के एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) पीवी रामाशास्त्री ने कहा कि सनाउल्लाह नाम का व्यक्ति वर्ष 998 से संभल से गायब है. आसिम उमर नाम के व्यक्ति के अफगानिस्तान में मारे जाने की ख़बर है. अभी तक इस मामले में किसी एजेंसी ने यूपी पुलिस से कोई डिटेल नहीं मांगी है.

    अमेरिका की एयर स्ट्राइक में संभल में जन्‍मे अलकायदा (दक्षिण एशिया) का सरगना आसिम उमर सहित 6 आतंकी मारे गए, जिनमें पांच पाकिस्तानी बताए जा रहे हैं. जानकारी के अनुसार, संभल का रहने वाला मारा गया आतंकवादी वर्ष 2014 से भारतीय उपमहाद्वीप में अलकायदा का नेतृत्व कर रहा था और 22-23 सितम्बर की रात को अमेरिका ने एयर स्ट्राइक अभियान चलाकर हेलमंद प्रांत के मूसा काला जिले में तालिबानी परिसर में छापे के दौरान मार गिराया. अफगानिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा महानिदेशालय से यह जानकारी दी है.

    देवबंद के बाद पाकिस्तान में ली तालीम

    बताया जाता है कि वर्ष 1990 में संभल से भागकर आसिम उमर आतंकी बन गया था. उसने देवबंद के दारुल उलूम से साल 1991 में ग्रेजुएशन किया था. देवबंद के बाद पाकिस्तान दारुल उलूम हक्कानिया नौशेरा में पढ़ने चला गया. सूत्रों की मानें तो इसे 'यूनिवर्सिटी ऑफ़ जिहाद' भी कहा जाता है.

    साल 2016 में अमेरिका ने घोषित किया वैश्विक आतंकी

    अलकायदा प्रमुख अयमान अल जवाहिरी ने सितंबर 2014 में आतंकी हमलों को अंजाम देने के लिए एक्यूआईएस (AQIS) का गठन किया था. अमेरिका ने वर्ष 2016 में आतंकी आसिम उमर को वैश्विक आतंकी घोषित करते हुए एक्यूआईएस को विदेशी आतंकी संगठनों की सूची में डाल दिया था. पता चला है कि आसिम उमर अलकायदा से पहले पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन हरकत उल मुजाहिदीन का सदस्य था. इसे भी अमेरिका ने प्रतिबंधित सूची में डाला था.

    कई हमलों में शामिल था आसिम उमर

    एक्यूआईएस ने सितंबर 2014 में कराची के नेवी डॉकयार्ड में हुए आतंकी हमले की जिम्मेदारी ली थी. उक्त संगठन अमेरिकी नागरिक अविजीत रॉय, अमेरिकी दूतावास के कर्मचारी जुलहाज मन्नान और बांग्लादेशी नागरिक वशिक़ुर रहमान बाबू, अहमद रजीब हदीर और एकेएम शफीउल इस्लाम की हत्या में शामिल था. बता दें कि पूर्व में भी संभल निवासी अलकायदा का एक और आतंकी मोहम्मद आसिफ गिरफ्तार हो चुका है.

    रिपोर्ट: सुनील कुमार

    ये भी पढ़ें:

    BJP नेता को बदमाशों ने दिनदहाड़े गोली मारी, इलाज के लिए लखनऊ ले जाते समय मौत

    चिन्मयानंद, लॉ छात्रा को लेकर लखनऊ रवाना हुई SIT, FSL में होगी आवाज़ की जांच

    Tags: Sambhal, UP police, Uttarpradesh news, World terrorism

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें