सपा सांसद का बयान, 'अल्लाह के सामने गिड़गिड़ाकर माफी मांगने से ही खत्म होगा कोरोना'

एसपी सांसद ने बीजेपी सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि मौजूदा सरकार ने शरीयत से ही छेड़छाड़ की है...

एसपी सांसद ने बीजेपी सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि मौजूदा सरकार ने शरीयत से ही छेड़छाड़ की है...

एसपी सांसद शफीकुर्रहमान बर्क (Shafiqur Rahman Barq) ने विवादित बयान देकर कहा है कि उन्होंने तो पिछले साल ही यह कह दिया था कि करोना कोई बीमारी नहीं है. यह तो सरकार की गलतियों की वजह से अज़ाब ए इलाही है जिसका खात्मा अल्लाह के सामने रोकर गिड़गिड़ाकर अपनी गलतियों की माफी मांगने और दुआ करने से ही हो सकता है.

  • Share this:

संभल. मुरादाबाद में समाजवादी पार्टी के सांसद एसटी हसन के विवादित बयान के बाद अब संभल में समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर्रहमान बर्क का विवादित बयान सामने आया है. समाजवादी पार्टी के सांसद डॉ. शफीकुर्रहमान बर्क ने विवादित बयान देकर कहा है कि कोरोना कोई बीमारी नहीं है. करोना अगर बीमारी होती तो दुनिया में इसका इलाज होता. यह बीमारी सरकार की गलतियों की वजह से अज़ाब ए इलाही है जो कि अल्लाह के सामने रोकर गिड़गिड़ाकर माफी मांगने से ही खत्म होगी.

एसपी सांसद ने बीजेपी सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि मौजूदा सरकार ने शरीयत से ही छेड़छाड़ नहीं की है बल्कि अपनी सरकार में लड़कियों को पकड़वाकर बलात्कार करवाने, मॉब लिचिंग और तमाम जुल्म ज्यादतियां की है जिसकी बजह से करोना जैसी आसमानी आफ़त सामने है.  हालांकि, रेप के बयान से शफीकुर्हमान बर्क पलट गए हैं. उन्होंने कहा कि तोड़ मरोड़कर बयान पेश किया गया. अब वैक्सीन भी लगवाने को सांसद तैयार हुए. पहले वैक्सीन पर सवाल उठाए थे.

लोकसभा संभल से समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर्रहमान बर्क ने यह विवादित बयान मुरादाबाद में समाजबादी पार्टी के सांसद एसटी हसन के विवादित बयान के बाद दिया है. दरअसल मुरादाबाद में एसपी सांसद एसटी हसन ने ब्यान देकर यह कहा था कि बीजेपी सरकार ने अपने 7 साल के कार्यकाल में शरीयत से इतनी छेड़छाड़ की है जिसकी वजह से करोना बीमारी और आंधी तूफ़ान जैसे तमाम आसमानी आफ़तें सामने आ रही हैं. अब सम्भल में समाजवादी पार्टी के सांसद डॉ. शफीकुर्रहमान बर्क बयानबाजी में अपनी पार्टी के सांसद एसटी हसन से भी आगे निकल गए हैं.

एसपी सांसद बर्क ने विवादित बयान देकर कहा है कि उन्होंने तो पिछले साल ही यह कह दिया था कि करोना कोई बीमारी नहीं है. करोना बीमारी होती तो दुनिया में इसका इलाज भी होता. यह तो सरकार की गलतियों की वजह से अज़ाब ए इलाही है जिसका खात्मा अल्लाह के सामने रोकर गिड़गिड़ाकर अपनी गलतियों की माफी मांगने और दुआ करने से ही हो सकता है.

Youtube Video

उन्होंने आगे कहा, "हमने मुस्लिमों के लिए मस्जिदों और ईदगाहों में नमाज पढ़ने और दुआ करने के लिए सरकार से मांग भी की थी लेकिन सरकार ने हमारी मांग नहीं मानी. इन गलतियों की बजह से आज तमाम आसमानी आफ़तें सामने हैं." सांसद ने बीजेपी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि मौजूदा सरकार ने शरीयत से ही छेड़छाड़ की गलती ही नहीं की है बल्कि लड़कियों को पकड़वाकर पकड़वाकर बलात्कार करवाए, मॉब लीचिंग और तमाम जुल्म ज्यादतियां करने की गलती की है. सरकार और सरकार की गलत पॉलिसियों की बजह से आज तमाम आसमानी आफतें आ रही हैं. वैक्सीन के विरोध को लेकर कहा की वह और तमाम उलेमा और मौलवी पहले ही फतवा देकर वैक्सीन के टेस्ट को लेकर सवाल उठा चुके हैं. अगर वेक्सीन टेस्टेड है तो लगवाने में कोई गुरेज नहीं है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज