अपना शहर चुनें

States

'मुसलमान अल्लाह के भरोसे जिंदा हैं, कांग्रेस-BJP या मोदी के भरोसे नहीं'

सांसद शफीकुर रहमान बर्क ने कहा, मुसलमान अल्लाह के भरोसे जिंदा हैं, कांग्रेस, भाजपा या मोदी के भरोसे नहीं.
सांसद शफीकुर रहमान बर्क ने कहा, मुसलमान अल्लाह के भरोसे जिंदा हैं, कांग्रेस, भाजपा या मोदी के भरोसे नहीं.

सपा सांसद शफीकुर रहमान बर्क ने कहा कि मुसलमानों को डिमोरलाइज करने की बात की जा रही है, लेकिन मुसलमान डिमोरलाइज होगा नहीं.

  • Share this:
यूपी के संभल से समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर रहमान बर्क के मुसलमानों पर ताजा बयान से नया विवाद खड़ा हो सकता है. बर्क ने बुधवार को कहा कि मुसलमान अल्लाह के भरोसे जिंदा है, कांग्रेस-भाजपा या मोदी के भरोसे नहीं. मुसलमान भारत (यहां पर) में रहेगा. देश और अपनी कौम की खिदमत करेगा और मुल्क को आगे बढ़ाएगा. बर्क ने कहा है कि मुसलमानों को डिमोरलाइज (हतोत्साहित) करने की बात की जा रही है, लेकिन मुसलमान डिमोरलाइज होगा नहीं.

सड़क पर नमाज पढ़ने के विरोध में सड़क पर हनुमान चालीसा पढ़ने के मामले में सपा सांसद बर्क ने कहा कि, “वो जाने, मैं क्या बोलूं. नमाज कोई परमानेंट नहीं पढ़ी जाती. अगर कभी जगह कम पड़ जाती है तो सड़क पर पढ़ते हैं.” वे सड़क पर नमाज अता करने और सड़क पर हनुमान चालीसा का पाठ किए जाने पर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे थे.

हावड़ा में सड़क पर नमाज के विरोध में किया गया था हनुमान चालीसा का पाठ
दरअसल पं. बंगाल के हावड़ा के बेले खाल में सड़क के बीच में हनुमान चालीसा का पाठ किया गया. भारतीय जनता युवा मार्चो के कार्यकर्ताओं ने 25 जून को सड़क रोककर नमाज अता करने के खिलाफ हनुमान मंदिर के पास की हर सड़क पर हनुमान चालीसा का पाठ किया था. मंगलवार को कार्यकर्ताओं ने यह आयोजन किया था. कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया है कि पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी के शासनकाल में किसी भी प्रमुख सड़क को शुक्रवार को रोककर नमाज अता की जाती है, जिससे लोगों को खासी परेशानी होती है.
ये भी पढ़ें - 


अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज