होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /

जनसंख्या नियंत्रण कानून को लेकर सपा सांसद बर्क का पलटवार, कहा- भाजपा का निशाना 2024 लोकसभा चुनाव

जनसंख्या नियंत्रण कानून को लेकर सपा सांसद बर्क का पलटवार, कहा- भाजपा का निशाना 2024 लोकसभा चुनाव

माजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर्रहमान बर्क ने कहा कि सरकार जनसंख्या कानून के बदले तालीम पर ध्यान दे. (News18Hindi)

माजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर्रहमान बर्क ने कहा कि सरकार जनसंख्या कानून के बदले तालीम पर ध्यान दे. (News18Hindi)

Population Control Law in UP: सपा सांसद बर्क ने सोमवार को संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि जनसंख्या वृद्धि को रोकने के लिए कानून को एक हथियार के रूप में सोचने की जगह, सरकार को शिक्षा पर ध्यान देना चाहिए और सभी के लिए उचित व्यवस्था करनी चाहिए, चाहे वे गरीब, बड़े या छोटे हों... अगर उन्हें पूरी शिक्षा मिलती है तो जनसंख्या का मुद्दा हल हो जाएगा.

अधिक पढ़ें ...

संभल. संभल से समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर्रहमान बर्क ने बच्चे पैदा करने का ताल्लुक अल्लाह से बताते हुए सरकार को यह सलाह दी है कि कानून लाने के बजाय सभी के लिए शिक्षा पर ध्यान देकर जनसंख्या वृद्धि से प्रभावी ढंग से निपटा जा सकता है. कथित तौर पर ‘एक खास नजरिये’ से जनसंख्या में वृद्धि को देखने के लिए राज्य सरकार पर हमला करते हुए सपा सांसद बर्क ने कहा कि सरकार का एकमात्र उद्देश्य 2024 में होने वाले (लोकसभा) चुनावों में वोट हासिल करना है.

बर्क ने सोमवार रात यहां संवाददाताओं से कहा, ‘जनसंख्या वृद्धि को रोकने के लिए कानून को एक हथियार के रूप में सोचने की जगह, सरकार को शिक्षा पर ध्यान देना चाहिए और सभी के लिए उचित व्यवस्था करनी चाहिए, चाहे वे गरीब, बड़े या छोटे हों… अगर उन्हें पूरी शिक्षा मिलती है तो जनसंख्या का मुद्दा हल हो जाएगा.’ उन्होंने कहा, ‘‘सरकार कानून लाने के बजाय तालीम पर जोर दे.’’

हर चीज को ‘एक खास नजरिए’ से देखने के लिए राज्य सरकार पर निशाना
हर चीज को ‘एक खास नजरिए’ से देखने के लिए राज्य सरकार पर निशाना साधते हुए बर्क ने आरोप लगाया कि उसका एकमात्र उद्देश्य 2024 के चुनावों में वोट हासिल करना है जिसके लिए वह किसी भी कीमत पर लोगों का नजरिया बदलना चाहती है. बर्क ने कहा, ‘यह (जनसंख्या) मुद्दा एक मानवीय मुद्दा है जो सभी को चिंतित करता है. हर चीज को एक खास नजरिये से नहीं देखा जाना चाहिए.’

सीएम योगी ने कहा था- जनसंख्या में असंतुलन नहीं होना चाहिए
विश्व जनसंख्या दिवस के मौके पर सोमवार को लखनऊ में ‘जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा’ की शुरुआत करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने संबोधन में कहा था, ”जब हम परिवार नियोजन/जनसंख्या स्थिरीकरण की बात करते हैं तो हमें ध्यान में रखना होगा कि जनसंख्या नियंत्रण कार्यक्रम सफलतापूर्वक आगे बढ़े, लेकिन जनसांख्यिकी असंतुलन की स्थिति भी न पैदा होने पाए.”

योगी ने कहा, “ऐसा नहीं होना चाहिए कि जनसंख्या वृद्धि की गति या किसी समुदाय का प्रतिशत अधिक हो और हम ‘मूल निवासियों’ की आबादी को स्थिर करने के लिए जागरूकता या प्रवर्तन के माध्यम से कार्य कर रहे हों.”

Tags: CM Yogi Adityanath, Population Control Bill, Shafiqur Rahman Burke, UP news

अगली ख़बर