होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /

OMG! भाई ने दिया ऐसा धोखा; अब खुद को जिंदा बता दफ्तरों के चक्कर काट रहा UP का यह 'मुर्दा'

OMG! भाई ने दिया ऐसा धोखा; अब खुद को जिंदा बता दफ्तरों के चक्कर काट रहा UP का यह 'मुर्दा'

UP News: भाई ने दिया ऐसा धोखा; अब खुद को जिंदा बता दफ्तरों के चक्कर काट रहा यूपी का यह 'मुर्दा'

UP News: भाई ने दिया ऐसा धोखा; अब खुद को जिंदा बता दफ्तरों के चक्कर काट रहा यूपी का यह 'मुर्दा'

UP News: उत्तर प्रदेश के संभल में अपने ही जिंदा भाई का फेक मृत्यु प्रमाण पत्र बनवाकर 2 लाख की बीमा धनराशि हड़पे जाने का हैरान करने वाला मामला सामने आया है. पुलिस ने इस मामले में तीन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर तफ्तीश शुरू कर दी है.

अधिक पढ़ें ...

संभल: उत्तर प्रदेश के संभल में अपनों के बीच धोखाधड़ी का एक ऐसा हैरान करने वाला मामला सामने आया है, जहां सरकारी कागजों में मृत साबित हो चुका शख्स खुद को जिंदा साबित करने के लिए हाथ में तख्ती लटकाए दर-दर भटक रहा है और कह रहा है- मैं जिंदा हूं साहब. दरअसल, मामला कुछ यूं है कि एक भाई ने अपने ही भाई का फर्जी मृत्यु प्रमाण-पत्र बनवा कर उसकी बीमा की दो लाख रुपए राश हड़प ली. इतना ही नहीं, फर्जी मृत्यु प्रमाण-पत्र के जरिए उसकी जमीन भी अपने नाम करवा ली. फिलहाल, मामला पुलिस में पहुंच चुका है.

दरअसल, सगे जीवित भाई का फर्जी मृत्यु प्रमाण-पत्र बनवाकर 2 लाख की बीमा धन राशि हड़पे जाने का मामला हयात नगर थाना इलाके के मुजफ्फरपुर गांव का है, जहां पीड़ित अबरार का आरोप है कि उसके सगे भाई इसरार ने एक साजिश के तहत बैंक में उसका खाता खुलवाने के बाद खुद को नॉमिनी दिखाकर उसका फर्जी मृत्यु प्रमाण-पत्र लगाया और प्रधानमंत्री जीवन बीमा की 2 लाख की धन राशि हड़प ली.

पीड़ित अबरार ने आगे आरोप लगाया कि उसके अपने बड़े भाई इसरार ने फेक मृत्यु प्रमाण-पत्र के जरिए फर्जीवाड़ा कर उसकी 6 बीघा जमीन भी अपने नाम दर्ज करा ली. जब उसने फर्जी मृत्यु प्रमाण-पत्र  बनवा कर दो लाख की बीमा धनराशि और 6 बीघा जमीन हड़पे जाने का विरोध किया तो उसके भाई इसरार और उसके परिवार के लोगों ने उसके साथ जमकर मारपीट की.

पीड़ित अबरार ने अपने भाई इसरार के खिलाफ कार्रवाई के लिए रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए हयात नगर थाने में जाकर गुहार लगाई लेकिन हयात नगर थाने की पुलिस ने मृत अबरार की शिकायत को गंभीरता से नहीं लिया, जिसके बाद पीड़ित ने अपने बड़े भाई इसरार के खिलाफ केस दर्ज कराने के लिए और न्याय के लिए कोर्ट से गुहार लगाई थी.

कोर्ट ने पीड़ित अबरार की याचिका पर सुनवाई करते हुए हयात नगर थाने की पुलिस को आरोपी इसरार समेत तीन लोगों के खिलाफ केस दर्ज करने और मामले की जांच कर सख्त कार्रवाई के आदेश दिए है. फिलहाल, पीड़ित अबरार सरकारी अभिलेखों में स्वयं को जीवित साबित करने के लिए हाथ में ‘मैं जिंदा हूं’ की तख्ती लिए तहसील और सरकारी दफ्तरों के चक्कर काट रहा है.

Tags: Sambhal News, Uttar pradesh news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर