Assembly Banner 2021

'चौकीदारों' का गांव हैं और यहां चोरों का प्रवेश वर्जित...

संभल में लगा पोस्टर

संभल में लगा पोस्टर

चंदौसी तहसील के गांव रामरायपुर गमटिया के ग्रामीणों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से प्रभावित होकर गांव में प्रवेश करने वाली सभी मार्गो पर पोस्टर लगा दिए हैं.

  • Share this:
लोकसभा चुनाव प्रचार की पूरी बहस 'चौकीदार' शब्द पर आ टिकी है. एक तरफ पीएम नरेंद्र मोदी ने 'मैं भी चौकीदार' कैंपेन करके विपक्ष पर हमला बोला है. इसी कड़ी में संभल जिले के एक गांव के ग्रामीणों ने पूरे गांव में 'चौकीदारों' का गांव है और यहां चोरों का प्रवेश वर्जित है लिखा बोर्ड लगाए हैं. वहीं गांव में बीजेपी के अलावा अन्य दलों के नेताओं की ग्रामीणों ने नो एंट्री लगा दी है. यही नहीं गांव के लोगों ने समूचा वोट भाजपा को देने का दावा कर रहे हैं.

पीएम मोदी की लोकप्रियता का ही नतीजा है कि यूपी के संभल जिले के एक गांव के लोग उनके द्वारा कराए गए कार्य से बेहद प्रभावित है. चंदौसी तहसील के गांव रामरायपुर गमटिया के ग्रामीणों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से प्रभावित होकर गांव में प्रवेश करने वाली सभी मार्गो पर पोस्टर लगा दिए हैं. पोस्टरों में साफ-साफ लिखा गया है कि यह गांव चौकीदारों का है और यहां चोरों का प्रवेश पूरी तरह से वर्जित है.

खेती करने वाले अजीत सिंह  ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ईमानदार छवि के है, उन्होंने अन्य दलों को भ्रष्ट और बेईमान बताया इसीलिए इस गांव में भाजपा के नेताओं के अलावा अन्य दलों के नेताओं की ग्रामीणों ने नो एंट्री लगा दी है. इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के अस्सी घाट पर बच्चों ने रंग बिरंगे वेशभूषा में कपड़े पहन कर पीएम के कैंपेन 'मैं भी चौकीदार' का समर्थन करने सड़क पर उतरे थे.



(रिपोर्ट: सुनील कुमार)
ये भी पढ़ें:

रैली के दौरान सपा कार्यकर्ताओं पर भड़कीं मायावती, दी ये नसीहत

नामांकन के बाद 22 अप्रैल को अमेठी के दौरे पर रहेंगे राहुल गांधी, ये रहा शेड्यूल

लोकसभा चुनाव: CM योगी आज करेंगे मैराथन चुनावी सभाएं, ये रहा प्रोग्राम

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज