संतकबीर नगर: पिता ने दोस्त के साथ मिलकर तीन बच्चियों को घाघरा नदी में फेंका
Sant-Kabir-Nagar News in Hindi

संतकबीर नगर: पिता ने दोस्त के साथ मिलकर तीन बच्चियों को घाघरा नदी में फेंका
पिता ने तीन बच्चियों को घाघरा नदी में फेंका

बच्चियों की उम्र सना साढ़े सात साल, सबा साढ़े चार और समां ढाई साल बताई जा रही है.

  • Share this:
संतकबीर नगर. संतकबीर नगर (Sant Kabir Nagar) के बिड़हर पुल से एक पिता ने अपने दोस्त के साथ मिलकर अपनी तीन बच्चियों को घाघरा नदी (Ghaghra) में फेंक दिया. घटना की सूचना मिलते ही पुलिस (Police) के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे और स्थानीय गोताखोरों की मदद से बच्चियों की तलाश की जा रही है. इसी बीच पुलिस ने एसडीआरएफ की टीम को भी सर्च के लिए बुलाया है.

बच्चियों की उम्र सना साढ़े सात साल, सबा साढ़े चार और समां ढाई साल बताई जा रही है. बताया जा रहा है कि धनघटा थाना क्षेत्र के डीहवा गांव निवासी सरफराज पुत्र सोहराब जिसकी उम्र लगभग 32 वर्ष 20 दिन पहले ही मुंबई से लौटा है और उसकी चार बच्चियां हैं. घटना की पीछे पारिवारिक कलह बताई जा रही है. पुलिस क्षेत्राधिकारी धनघटा तथा थाना प्रभारी धनघटा मय फोर्स द्वारा खोजबीन जारी है. पुलिस ने आरोपी पिता और उसके दोस्त को गिरफ्तार कर लिया है.

मुंबई में ट्रक ड्राइवर का काम करता था आरोपी



जानकारी के मुताबिक आरोपी पिता मुंबई में ड्राइवर का काम करता था और नशे का आदी भी है. पारिवारिक कलह के बाद उसने अपने दोस्त के साथ मिलकर तीन बच्चियों को घाघरा नदी में फेंक दिया. चौथी बच्ची अनम सात महीने की है जो बच गई है. एसपी ब्रजेश सिंह ने बताया की सरफराज नाम का व्यक्ति है जिसकी 2012 में शादी हुई थी. उसने बताया कि पारिवारिक कलह की वजह से नशे की हालत में अपने दोस्त की मदद से मोटरसाइकिल से अपनी तीन बच्चियों को लेकर पुल पर पहुंचा और उन्हें नदी में फेंक दिया. फ़िलहाल बच्चियों की तलाश के लिए गोताखोर लगाए गए हैं. एसडीआरएफ की टीम को भी मदद के लिए बुलाया गया है.
ये भी पढ़ें -

COVID-19: दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग का निर्देश, 2 घंटे में शवगृह भेजे जाएं शव

दिल्ली सरकार के पास नहीं सैलरी देने का पैसा, केंद्र से मांगे 5000 करोड़
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading